झारखंड सरकार मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना को बंद करने की तैयारी में

झारखंड सरकार मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना को बंद करने की तैयारी में-Panchayat Times

रांची. राज्य में चल रही मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना को सरकार बंद करने की तैयारी में है. अब इसकी जगह ओड़िशा की कालिया योजना की तर्ज पर नई योजना लाएगी. कालिया योजना में मिल रहे लाभ को लेकर कृषि विभाग ने मंथन करना शुरू कर दिया है. इस योजना का प्रारुप बनाया जा रहा है. इस योजना तहत भूमिहीन किसानों को कम से कम 12 हजार पांच सौ रुपए मिलेंगे.

बता दें कि मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत राज्य में करीब 25 लाख किसान सूचीबद्ध हैं. 16 लाख किसानों को योजना की पहली किश्त मिल चुकी है. दूसरी किश्त में नौ लाख किसानों के खाते में राशि पहुंची है.

नई योजना में पांच फसलों के लिए मिलेगी राशि

नई योजना में जमीन के आधार पर किसानों को राशि नहीं मिलेगी. जबकि कृषि आशीर्वाद योजना में प्रति एकड़ पांच हजार रुपए और अधिकतम 25 हजार रुपए की राशि दो किस्तों में दी जा रही थी. नई योजना में किसानों को सरकार रबी और खरीफ समेत पांच फसलों के लिए 25 हजार रुपए देगी. कृषि विभाग के अधिकारी ने बताया कि तैयार हो रहे प्रस्ताव के मुताबिक जिन किसानों के पास जमीन नहीं है. उन्हें 12 हजार 500 सौ रुपये दिए जाएंगे जिससे वे मछलीपालन, बकरी पालन, मुर्गी पालन आदि का काम कर सकेंगे.

वाट्सएप से मिलेगा संदेश

नई योजना शुरू होने के बाद किसानों को व्हाट्सएस से इसके फायदों के बारे में बताया जाएगा. कृषि विभाग अपने प्रस्ताव में इस माध्यम को भी जोड़ रहा है ताकि अधिक से अधिक किसानों तक इस संदेश को पहुंचाया जा सके.

जीवन बीमा कराया जा सकता है किसानों का

नई योजना में किसानों के जीवन बीमा कराने के भी प्रावधान हो सकता है. कालिया योजना में भूमिहीन किसानों का भी जीवन बीमा करवाया गया है. जिसके लिए ओड़िशा सरकार मामूली किस्त किसानों से लेती है.