स्कूलों में खेलों को बढ़ावे के लिए विशेष बजट देगी सरकार : शिक्षा राज्यमंत्री

स्कूलों में खेलों को बढ़ावे के लिए विशेष बजट देगी सरकार : शिक्षा राज्यमंत्री
प्रतीक चित्र

जयपुर. शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार ने स्कूलों में शिक्षा एवं खेल को बढ़ावा देने की नीति के तहत पूरी गंभीरता के साथ काम किया है. जल्द ही खेलों के क्षेत्र में राजस्थान अग्रणी होगा. खेलों के विकास के लिए सरकार प्रत्येक स्कूल में 5 से 25 हजार तक के उपकरण उपलब्ध कराएगी.

खेलों को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक स्तर के विद्यालयों में 5 से 25 हजार तक का विशेष बजट देकर खेल उपकरण उपलब्ध कराएगी.

शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री देवनानी ने बुधवार को अजमेर जिले की राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय फॉयसागर रोड में अक्षय पात्र फाउंडेशन की ओर से बालिकाओं के लिए नए झूलों की सुविधा का शुभारम्भ किया. इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए. उन्होंने कहा कि हमने 7 हजार स्कूलों का क्रमोन्नयन और सैंकड़ों करोड़ की लागत से भौतिक सुविधाओं का विस्तार सरकारी स्कूलों में किया है.

देवनानी ने कहा कि अभिभावक चाहते हैं कि उनके बच्चे सरकारी स्कूलों में पढ़ें. स्कूलों में प्रवेश के लिए अभिभावकों की कतारे, लाखों नए नामांकन और शैक्षिक गुणवत्ता इसका सबूत है. राजस्थान की शिक्षा ने नई ऊंचाईयों को छू रही है. शीघ्र ही हम देश में दूसरे से पहले स्थान पर होंगे. राजस्थान में हुए नवाचारों को पूरे देश में सराहा गया और इसका अनुसरण किया जा रहा है.

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे चाहती है कि गांव के बच्चे को गांव में ही पूरी स्कूली शिक्षा मिले और उसे कहीं बाहर नहीं जाना पडे़. हमने प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर सीनियर सैकण्डरी स्तर का स्कूल खोला. राज्य में 7 हजार स्कूलों को क्रमोन्नत किया गया है.

उन्होंने कहा कि हमने शिक्षकों की समस्याओं को समझकर उनके निराकरण के प्रयास किए. आजादी के बाद पहली बार सवा लाख से ज्यादा शिक्षकों को पदोन्नति दी गई. शिक्षकों के रिक्त पदों को नई भर्ती से भरा गया. स्कूलों को भौतिक संसाधन उपलब्ध कराए गए.