राजस्थान के विकास में खुली सोच से काम करेगी सरकार : गहलोत

राजस्थान के विकास में खुली सोच से काम करेगी सरकार : मुख्यमंत्री-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक अशोक गहलोत

जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि हमारी सरकार प्रदेश के विकास में खुले मन और खुली सोच के साथ काम करेगी. जनहित में की गई आलोचना को भी हम खुले दिल से स्वीकार करेंगे. राज्य कर्मचारी सरकार का अभिन्न अंग हैं और उनकी देश एवं प्रदेश के विकास में अहम भूमिका है.

राज्य सरकार कर्मचारियों के कल्याण का ध्यान रखेगी. मुख्यमंत्री शनिवार को राजस्थान सचिवालय कर्मचारी संघ की ओर से गणतंत्र दिवस के अवसर पर सचिवालय में आयोजित समारोह में ध्वजारोहण के बाद संबोधित कर रहे थे. मुख्यमंत्री ने यहां राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित कर उन्हें याद किया. गहलोत ने कहा कि यह पर्व संवैधानिक मूल्यों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का प्रतीक है. हमें इस अवसर पर संकल्प लेना चाहिए कि हम हमारी लोकतांत्रिक परम्पराओं को अधिक समृद्ध बनाएं. कोई भी देश घृणा, नफरत और अविश्वास से नहीं चल सकता. देश प्यार, मोहब्बत और भाईचारे से ही चल सकता है. हर नागरिक में यह भावना रहनी चाहिए कि हमारा देश एक रहे, अखण्ड रहे.

राजस्थान के विकास में खुली सोच से काम करेगी सरकार : मुख्यमंत्री-Panchayat Times
साभार : ऑफिसियल फेसबुक अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब हमारा देश आजाद हुआ तब यहां सुई भी बाहर से आती थी. न बिजली थी, न ही कम्प्यूटर और न इंटरनेट. विज्ञान के क्षेत्र में हम बहुत पिछड़े हुए थे. लेकिन, आज हमारा देश विकास के जिस मुकाम पर खड़ा है. वह हमारे महान नेताओं के योगदान से ही संभव हुआ है. करीब 20 साल पहले उन्होंने सरकार बनने के तुरंत बाद पहली बार चुनावी घोषणापत्र को कैबिनेट से अनुमोदित करवाकर उसे नीतिगत सरकारी दस्तावेज का रूप दिया. हमारे इस प्रयोग ने ही देश में चुनावी घोषणा पत्रों की विश्वसनीयता बढ़ाई और चुनावी वादों पर बेहतर ढंग से अमल होने लगा.

कर्जमाफी का नाटक कर छह हजार करोड़ का बोझ डाला : गहलोत

मुख्यमंत्री ने कहा कि लिपिक ग्रेड द्वितीय भर्ती परीक्षा 2011 में चयनित जिन 216 कार्मिकों का नियमितीकरण नहीं हो सका है, उनके नियमितीकरण की प्रक्रिया शीघ्र शुरू की जाएगी. 88 मृतक कर्मचारियों के आश्रितों को अनुकम्पात्मक नियुक्ति के प्रकरणों में टंकण परीक्षा एवं आयु सीमा में शिथिलता दी जाएगी.

मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने कहा कि राज्य सरकार कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान करने का पूरा प्रयास करेगी. उन्होंने कर्मचारियों से आह्वान किया कि वह पूरी निष्ठा, समर्पण एवं मनोयोग के साथ कार्य करते हुए प्रदेश के विकास में योगदान दें. सचिवालय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष पंकज कुमार ने स्वागत संबोधन दिया. इस अवसर पर कर्मचारियों एवं लोक कलाकारों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी.