हमीरपुर: कारगिल विजय दिवस पर वीर सैनिकों को किया नमन, शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित

हमीरपुर: कारगिल विजय दिवस पर वीर सैनिकों को किया नमन, शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

हमीपुर. विजय दिवस के अवसर पर रविवार को हमीरपुर जिला मुख्यालय में कारगिल के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई और ऑपरेशन विजय में अपने अदम्य साहस का प्रदर्शन करने वाले सभी सैनिकों को नमन किया गया.

इस अवसर पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शिमला से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सभी उपस्थितजनों को देश के गौरवमय इतिहास की रक्षा हेतु पूर्ण रूप से समर्पित रहने की प्रतिज्ञा दिलाई.

सभी ने शपथ ली कि हम कारगिल युद्ध के उन वीर शहीदों जिन्होंने देश की अखण्डता व सम्मान की रक्षा के लिए अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए अपने प्राण न्यौछावर किए हैं, उनकी पुनीत स्मृति एवं शौर्य को नमन करते हुए प्रतिज्ञा करते हैं कि देश के गौरवमय इतिहास की रक्षा हेतु पूर्ण रूप से समर्पित रहेंगे.

इससे पूर्व यहां उपायुक्त कार्यालय के वीडियो कॉन्फ्रेंस कक्ष में उपायुक्त हरिकेश मीणा ने कारगिल में अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाले हमीरपुर जिला के आठ वीर जवानों को श्रद्धासुमन अर्पित किए. इनमें हवलदार कश्मीर सिंह, हवलदार राजकुमार, सिपाही दिनेश कुमार, हवलदार स्वामीदास चंदेल, सिपाही राकेश कुमार, राइफल मैन प्रवीण कुमार, सिपाही सुनील कुमार व राइफल मैन दीपचंद ने कारगिल में अपना सर्वोच्च बलिदान देकर हमीरपुर की इस वीरभूमि के नाम को चरितार्थ किया था.

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में शौर्य, साहस एवं त्याग की समृद्ध परम्परा रही है जिस कारण प्रदेश को उचित ही वीर भूमि कहा जाता है. मई, 1999 से अगस्त, 1999 तक कारगिल में अघोषित युद्ध लड़ा गया और ऑपरेशन विजय में प्रदेश के 52 सैनिक शहीद हुए थे.इस ऑपरेशन के दौरान देश के जिन चार जवानों को परमवीर चक्र प्रदान किए गए हैं, उनमें से दो हिमाचल प्रदेश से संबंध रखते हैं.