कुल्लू घाटी में बारिश का कहर, दो व्यक्ति किए रेस्क्यू

कुल्लू घाटी में बारिश का कहर, दो व्यक्ति किए रेस्क्यू -Panchayat Times
साभार इंटरनेट
कुल्लू. कुल्लू घाटी में लगातार हो रहा बारिश के कारण नदी नाले उफान पर हैं. समय रहते बचाव कर्मी मौका पर न पहुंचते तो दो लोग व्यास नदी की भेंट चढ़ सकते थे. वहीं मनाली-रोहतांग मार्ग को भी वाहनों की आवाजाही के लिए फिलहाल बंद कर दिया गया है.
 शनिवार को बड़ाग्रां क्षेत्र में अचानक हुई तेज बारिश के कारण व्यास नदी का जल स्तर बढ़ गया. इस दौरान पतलीकूहल में सुरक्षा दीवार बनाने के लिए टिप्पर के माध्यम से नदी से पत्थर लाने का क्रम जारी थी. व्यास का जलस्तर बढ़ने के कारण दो व्यक्ति नदी के बीच फंस गए. सूचना मिलते ही दमकल कर्मियों का दल व स्थानीय लोग मौका पर पहुंच गए. वहीं एस डी एम मनाली अमित गुलेरिया भी मौका पर पहुंचकर राहतकार्यों का जायजा लेने पहुंच गए. करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद नदी के मध्य फंसे दोनों व्यक्तियों को बचाव दल कि ओर से सुरक्षित बाहर निकलने में सफलता मिली.
व्यास नदी के जलस्तर बढ़ जाने के कारण आखाड़ा बाजार में बनाया गया अस्थाई बेली ब्रिज भी जिला प्रशासन को वाहनों की आवाजाही के लिए बंद करना पड़ा है. सड़क मार्ग में हुए भू स्खलन के कारण मार्ग अवरुद्ध हो गया है. शहर में से वाहनों की आवाजाही आम जनता के लिए परेशानी का कारण बन सकती है.
पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने बताया कि दोनों व्यक्तियों को सुरक्षित नदी से बाहर निकाल लिया गया है. उन्होंने कहा कोकसर चौकी से प्राप्त सूचना के अनुसार भारी वारिश के कारण चौकी के साथ लगते नाले का जल स्तर बढ़ गया है. जिसके कारण रोहतांग से मनाली की तरफ जाने वाली गाड़िया अभी रूकी हुई है, और अभी तक किसी भी प्रकार के नुकसान की सूचना नही है.