जम्मू-कश्मीर से सटी हिमाचल की सीमाओं पर हाई अलर्ट

जम्मू-कश्मीर से सटी हिमाचल की सीमाओं पर हाई अलर्ट-Panchayat Times

शिमला. कश्मीर की हालात को देखते हुए जम्मू-कश्मीर से लगती हिमाचल की सीमाएं भी हाई अलर्ट पर हैं. सुरक्षा की नजर से संवेदनशील जेएंडके से लगती चंबा और कांगड़ा की सीमाओं को एहतिहातन अलर्ट पर रखने के बाद खासकर जम्मू-कश्मीर से सटे चंबा बार्डर पर अब आतंकियों की टोह लेने के लिए सर्च ऑपरेशन छेड़ दिया गया है.

सरहद पार से आतंकी घुसपैठ रोकने के लिए बॉर्डर पर आईआरबी के जवानो की एंबुश पैट्रोलिंग लगा दी गई है.हिमाचल के मुख्यमंत्री ने भी जम्मू-कश्मीर के साथ लगती प्रदेश की सरहदों पर चौकसी रखने को कहा है.

राज्य पुलिस ने खासकर कांगड़ा के भूंतर, गगल एयरपोर्ट में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर दिए हैं. केंद्रीय खुफिया एजेंसियां भी प्रदेश की सीमाओं पर निगरानी रखे हुए हैं. भाखड़ा बांध, रेलवे स्टेशन, भीड़ भीड़ वाले शहरों बड़े अस्पतालों व धार्मिक स्थलों पर चौकसी बरतने के आदेश दिए गए हैं. हिमाचल की शांत वादियों में कहीं आतंकवादी दहशतगर्दी न फैला सके. लिहाजाा होटल, विद्युत परियोजनाओं, शस्त्रागार में हथियार बंद जवानों की तैनाती की गई है.  कश्मीर की हालात को देखते हुए हिमाचल में भी अलर्ट कर दिया है.

चंबा बार्डर की सीमा पर 305 आईआरबी के जवान पहरा दे रहे हैं. पुलिस के यह जवान बार्डर पर आतंकियों की घुसपैठ पर पैनी निगाह रखे हुए हैं. मौजूदा समय में चंबा बार्डर पर हिमाचल पुलिस की पडोह बटालियन तैनात है. आईटीबीपी के हटने के बाद चंबा बार्डर की निगरानी का जिम्मा प्रदेश पुलिस ने उठा रखा है. चंबा बॉर्डर पर 13 बार्डर चेकपोस्ट है। प्रत्येक चेकपोस्ट में 12 कॉस्टेबल, 2 हैड कॉस्टेबल और एक एएसआई तैनात रहता है. चेकपोस्ट में तैनात ये जवान चेकपोस्ट क्षेत्र में आतंकियों की टोह लेने के लिए एंबुश पेट्रोलिंग के साथ सर्च ऑपरेशन चलाते हैं.

हिमाचल के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल शांतिपूर्वक राज्य है और हम पूरी तरह सुरक्षित हैं. कश्मीर में हालात को देखते हुए केंद्र सरकार ने अमरनाथ यात्रा भी स्थगित कर दी है. जहां तक हिमाचल का सवाल है यहां घबराने की कोई बात नहीं हैं. फिर भी जम्मू-कश्मीर से लगती चंबा और कांगड़ा की सीमाओं पर एहतियातन अलर्ट जारी किया गया है.