हिमाचल | पांच दिवसीय विंटर कार्निवाल का समापन, शिमला की आशिमा चौहान ने जीता विंटर क्वीन का खिताब, वहीं ताप्ती ठाकुर फर्स्ट रनरअप और इप्शिता बनी सेकंड रनरअप

शिमला. हिमाचल प्रदेश की पर्यटन नगरी मनाली में आयोजित पांच दिवसीय राष्ट्र स्तरीय विंटर कार्निवाल का गुरुवार देर रात समापन हो गया है. प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कार्निवाल का समापन किया. पांच दिनों तक चले इस आयोजन में शिमला की आशिमा चौहान ने विंटर क्वीन का खिताब जीता.

गुरुवार रात करीब 10 बजे हुआ ऐलान

प्रतियोगिता में ताप्ती ठाकुर को फर्स्ट रनरअप और चंबा की इप्शिता को सेकंड रनरअप चुना गया. गुरुवार रात करीब 10 बजे विंटर क्वीन की विजेता का चुनाव हुआ. विंटर क्वीन के लिए सुंदरियों से सवाल भी पूछे गए. पहले व दूसरे चरण के बाद अंतिम 15 का चयन किया गया था. उसके बाद अंतिम व तीसरे राउंड के लिए छह सुंदरियों को चुना गया.

फाइनल राउंड की छह सुंदरियां

इस प्रतियोगिता के अंतिम चरण में अक्षी धर्मा, ताप्ती ठाकुर, मेघना, आशिमा चौहान, इप्शिता और सुमन सिंह शरद अंतिम छह में पहुंची थीं. कार्निवाल की अंतिम सांस्कृतिक संध्या रात 12 बजे तक चलती थी, लेकिन कोरोना कर्फ्यू के कारण कार्निवाल का संपन्न 10 बजे ही करना पड़ा है.

कई और प्रतियोगिताएं का भी किया गया आयोजन

इसके अलावा कार्निवाल में कई अन्य स्पर्धाएं भी हुईं. लोगों और पर्यटकों के मनोरंजन के लिए कार्निवाल कमेटी की ओर से माल रोड से लेकर मनुरंगशाला में आयोजित वाद्य यंत्र, बैंड, टैलेंट शो, क्लासिक डांस, फिल्मी गीत पर डांस, लोकनृत्य प्रतियोगिता ने खूब वाहवाही लूटी.

नाटी में राइट बैंक प्रथम और वामतट दूसरे स्थान पर रही.  वॉयस ऑफ कार्निवाल में पहले स्थान पर अभिजीत, उर्मिला सोनी दूसरे और गुरप्रीत सिंह और गुरप्रीत-2 तीसरे स्थान पर रहे. महिला मंडल के रस्साकस्सी में हिमरी विजेता रहा.

दो साल के बाद हुआ कार्यक्रम

दो साल बाद कार्निवाल को लेकर घाटीवासियों में उत्साह का माहौल था. विंटर कार्निवाल कमेटी के अध्यक्ष एवं उपायुक्त कुल्लू आशुतोष गर्ग ने कहा कि पांच दिनों तक चले विंटर कार्निवाल मनाली का समापन हो गया है.