हिमाचल में कोरोना के 81 नए मामले आए सामने

चंबा में कोरोना के 11 नए मामले -Panchayat Times
साभार इंटरनेट

शिमला. हिमाचल प्रदेश में कोरोना महामारी से लोग परेशान हैं. कोरोना यहां बेकाबू होता दिख रहा है. शनिवार को सात जिलों में 81 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई हैं, वहीं राज्य में अब कोरोना के मामले ने दो हजार का आंकड़ा पार कर लिया है. आज (शनिवार) को मिले नए मामलों में जिलावार सबसे ज्यादा 34 मरीज सोलन में मिले हैं.

सिरमौर व मंडी में 15-15, चंबा में 7, उना में 6, कांगड़ा में 3 और शिमला में एक मामला सामने आया है. राजधानी शिमला में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का एक कर्मचारी कोरोना से संक्रमित पाया गया है, जबकि आज अलग-अलग जिलों के 22 मरीजों ने कोरोना से जंग जीती.

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक अब तक प्रदेश में कोरोना के 2035 मामले दर्ज किए गए हैं. बीते 10 दिनों में कोरोना के आंकड़ों में जबरदस्त बदलाव देखने को मिला है. तीन जिलों सोलन, सिरमौर और मंडी में रोजाना कई मामले सामने आने से कोरोना का विस्फोट हो रहा है. सोलन में संक्रमित मरीजों की संख्या 500 पार कर गई है. सोलन के औद्योगिक नगर बीबीएन और सिरमौर के नाहन व ददाहू शहरों में हालात इतने खराब हो गए हैं कि प्रशासन ने इन क्षेत्रों में दो दिन का लाॅकडाउन कर दिया है.

संक्रमण के मामलों में यकायक हो रही बढ़ोतरी से रिकवरी रेट काफी नीचे गिर गया है. दो सप्ताह पहले जहां रिकवरी रेट 75 फीसदी पहुंच गया था, वहीं अब यह 57 फीसदी पर आ गया है. राज्य में कोरोना से अब तक 1168 लोग ठीक हुए हैं. कोरोना के सक्रिय मामलों की कुल संख्या 840 है. राज्य में कोरोना 11 लोगों की जान गई है.

अनलाॅक के दूसरे चरण में प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्ध हुई है. जुलाई माह के 25 दिनों में एक हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं. कोरोना का आंकड़ा एक हजार पहुंचने में जहां 103 दिन लगे, वहीं अगले एक हजार मामले महज 23 दिन में आ गए. राज्य में विगत दो जुलाई को कोरोना संक्रमितों की तादाद एक हजार दर्ज की गई थी. जबकि कोरोना का पहला मामला 19 मार्च को सामने आया था.

स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव निपुण जिंदल ने बताया कि सोलन जिला सर्वाधिक प्रभावित है, जहां 506 मामले हैं. कांगड़ा में संक्रमण का आंकड़ा 388, हमीरपुर में 291, सिरमौर में 216, उना में 178, शिमला में 125, चंबा में 93, बिलासपुर में 68, मंडी में 101, किन्नौर में 41, कुल्लू में 24 और लाहौल-स्पीति में चार हैं.