हिमाचल प्रदेश: कोरोना वायरस के चलते 31 मार्च तक सारे शिक्षण संस्थान बंद

हिमाचल प्रदेश: कोरोना वायरस के चलते 31 मार्च तक सारे शिक्षण संस्थान बंद - Panchayat Times
For representation purpose only

शिमला. कोरोना वायरस का संक्रमण फैसने की आशंका के चलते हिमाचल में समस्त स्कूल, काॅलेज व विश्वविद्यालय 31 मार्च तक बंद रहेंगे. इस दौरान स्कूल और कॉलेजों में चल रही परीक्षाओं पर कोई रोक नहीं होगी. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शनिवार को विधानसभा में यह एलान किया.

शिक्षण संस्थानों के साथ आंगनबाड़ी केंद्र व सिनेमा हाॅल भी 31 मार्च तक बंद

उन्होंने कहा कि शिक्षण संस्थानों के साथ आंगनबाड़ी केंद्र व सिनेमा हाॅल भी 31 मार्च तक बंद रखे जाएंगे. साथ ही ऐसे सभी आयोजनों व कार्यक्रमों को भी रोका जाएगा, जहां बड़ी तादाद में लोग एकत्रित होते हैं. उन्होंने कहा कि इस बीमारी के संक्रमण के प्रति सरकार पूरी तरह सतर्क है और मेलों, उत्सवों व खेल आयोजनों पर आगामी आदेशों तक रोक लगा दी गई है. सरकार यह भी प्रयास करेगी कि आगामी नवरात्रों के उपलक्ष्य में राज्य के विभिन्न शक्तिपीठों व धार्मिक स्थलों में कम श्रद्वालु जुटें.

हिमाचल प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस का एक भी सत्यापित मामला नहीं

कोरोना वायरस पर विशेष वक्तव्य देते हुए जयराम ठाकुर ने सदन में कहा कि हिमाचल प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस का एक भी सत्यापित मामला सामने नहीं आया है. उन्होंने कहा कि हिमाचल में 593 लोग कोरोना प्रभावित देशों से वापिस लौटे हैं. इनमें 7 लोगों के रक्त और अन्य संबंधित नूमने जांच के लिए प्रयोगषाला में भेजेे गए. इनमें से किसी में भी कोरोना वायरस की पुष्टि नहीं हुई है.

पूरा देश कोरोना वायरस को लेकर चिंतित

उन्होंने आगे कहा कि पूरा देश कोरोना वायरस को लेकर चिंतित है. अब तक कई राज्यों में इसे महामारी घोषित किया गया है. हिमाचल में इस बीमारी को लेकर पूरी सतर्कता बरती जा रही है. उन्होंने कहा कि नेपाल में इस बीमारी ने पैर पसार लिए हैं, जो कि हिमाचल के लिए चिंताजनक है, क्योंकि बड़ी तादाद में नेपाली नागरिक सड़क मार्ग से हिमाचल पहुंचते हैं.

मुख्यमंत्री ने विधायकों से आग्रह किया कि वे अपने हल्कों में नागरिकों को इस बीमारी के प्रति जागरूक बनाएं, साथ ही वे ऐसा आयोजन न करें, जिसमें लोग इक्टठा हों.