हिमाचल : नगर निगम और पंचायत चुनाव में कोरोना बन सकता है चुनौती, संक्रमण के चलते घट सकता है मत प्रतिशत

हिमाचल : नगर निगम और पंचायत चुनाव में कोरोना बन सकता है चुनौती, संक्रमण के चलते घट सकता है मत प्रतिशत - Panchayat Times
For Representational Purpose Only Source - Internet

शिमला. प्रदेश में आगामी 7 अप्रैल को नगर निगम और तीन ब्लॉक में पंचायत चुनाव होने जा रहे है. ऐसे में कोरोना संक्रमण का बढ़ता खतरा मतदाता और चुनाव आयोग के सामने दिक्कत पैदा कर सकता है. तीन दिन बाद 4 नगर निगम, 6 नगर परिषद और 128 पंचायतों में प्रधान पद के लिए चुनाव होना है.

वोटिंग से एक दिन पहले मतदान केंद्र होंगे सैनिटाइज

नगर निगम चुनाव में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से मतदान किया जाने वाला है. वहीं पंचायत चुनाव ममे बैलेट पेपर से वोटिंग की जाएगी. राज्य चुनाव आयोग द्वारा कोरोना बचाव मानकों का पालन करते हुए वोटिंग से एक दिन पहले मतदान केंद्र को सैनिटाइज करवाया जाएगा.

यह भी पढ़ें –

4 बजे के बाद संक्रमित वोटर डालेंगे वोट

7 अप्रैल को सुबह 8 से शाम 4 बजे तक मतदान की प्रक्रिया की जाएगी. इसके बाद संक्रमित वोटरों के लिए एक घंटे का अतिरिक्त समय निर्धारित किया गया है. यानि कि संक्रमित वोटर 4 बजे के मतदान करेंगे. संक्रमित वोटरों को पीपीई किट पहने स्वास्थ्य कर्मचारी मतदान करवाएंगे. इसके साथ ही एक वोटर के मतदान करने के बाद ईवीएम को सैनिटाइज किया जाएगा.

128 पंचायतो में होगा मतदान

इसके साथ ही आपको बता दें कि शिमला के टुटू, चौपाल और मंडी जिले के धर्मपुर ब्लॉक में कुल 138 प्रधान पदों के लिए चुनाव होगा. 10 जनवरी को प्रदेश भर में पंचायत चुनाव हुए थे. लेकिन इन ब्लाकों में प्रधान पदों के चुनाव का मामला हाईकोर्ट में विचाराधीन था. इसके कारण उस समय इन पंचायतो में चुनाव नहीं हो पाए थे. वहीं चुनाव जीतने के बाद दो प्रधानों की मौत हो गई थी.