नशा मुक्ति केंद्रों के नाम पर हो रही है लाखों रुपए की लूट

नशा मुक्ति केंद्रों के नाम पर लाखों रुपए की लूट का मामला सामने आया है
प्रतीक चित्र

दून(सोलन). नशा मुक्ति केंद्रों के नाम पर लाखों रुपए की लूट का मामला सामने आया है. यहां नशा मुक्ति केंद्रों में नशा छुड़ाने के नाम पर लोगों को हर महीने लाखों रुपए का चूना लगाया जा रहा है. नशा मुक्ति केंद्रों के नाम पर लोगों के लाखों रुपए की लूट हो रही है लेकिन सुविधाओं के नाम पर न तो यहां भर्ती हुए युवाओं की कोई सुरक्षा है और न ही स्वास्थ्य के नाम पर कोई डॉक्टर. इस लूट का खुलासा खुद गांव वालों ने किया है.

स्थानीय लोगों ने अपना नाम न बताने की शर्त पर मीडिया को बताया कि बरोटी वाला के पास मधाला और कुल्हाड़ीवाला में दिशा फाउंडेशन के नाम पर नशा केंद्र खुला है. जिसमें हर रोज लड़ाई झगड़े होते हैं. उन्होंने बताया कि, सोमवार सुबह भी यहां भर्ती के लिए एक लड़के को बुरी तरह से पीटा गया था. मारपीट के बाद उस लड़के को हरियाणा के एक अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया.

इस घटना के बाद खुद मीडियाकर्मियों ने उस अस्पताल का दौरा किया. उन्होंने वहां की सीसीटीवी फुटेज में पाया कि उस लड़के की नाक और मुंह पर बुरी तरह से चोट आई हुई थी. मीडिया ने इसके बाद कुल्हाड़ीवाला स्थित उस नशा मुक्ति केंद्र का भी दौरा किया गया. यहां के नशा मुक्ति संचालक संजीव गर्ग से जब इस लड़ाई के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि “उस युवक को उन्होंने पंजाब शिफ्ट कर दिया है. यहां चिट्टा जैसे नशे से पीडि़त तकरीबन 30 युवा भर्ती हैं जो कि अभी पूरी तरह से स्वस्थ्य नहीं है. नशे के तोड़ में यह युवा किसी को भी नुकसान पहूंचा सकते हैं.”

आपको बता दें कि यहां नशा मुक्ति केंद्र में न तो इन युवाओं की सुरक्षा को लेकर कोई इंतजाम है और न ही स्वास्थ्य सुविधा को लेकर कोई चिकित्सक रखा गया है. नशा छुड़ाने के नाम पर यह लोग न केवल मरीजों के परिजनों से भारी भरकम पैसा वसूलते हैं. बल्कि समय-समय पर बच्चों की खुराक और अन्य सामान के लिए भी पैसे वसूले जाते हैं.