हिमाचल : शहरी निकाय और पंचायत चुनाव के लिए 550 पोलिंग बूथों पर 3,204 कर्मचारी देंगे ड्यूटी, 6 अप्रैल को पोलिंग पार्टियां होगी रवाना

हिमाचल : शहरी निकाय और पंचायत चुनाव के लिए 550 पोलिंग बूथों पर 3,204 कर्मचारी देंगे ड्यूटी, 6 अप्रैल को पोलिंग पार्टियां होगी रवाना
For Representational Purpose Only Source - Internet

शिमला. प्रदेश में शहरी निकायों और तीन ब्लॉक के पंचायत प्रधान पद के चुनाव होने में अब एक हफ्ते से भी कम समय बचा है. इसके चलते चुनावी तैयारियां और हलचल शुरू हो चुकी है. 6 अप्रैल को पोलिंग पार्टियां रवाना हो जाएगी. शहरी निकाय और पंचायत चुनाव में कुल 3,204 कर्मचारी ड्यूटी देंगे.

पुलिस और स्वास्थ्य कर्मचारी भी होंगे तैनात

यह चुनाव शांतिपूर्ण और निष्पक्ष हो इसके लिए होमगार्ड और पुलिस के जवानों की तैनाती भी पोलिंग बूथ पर की जाएगी. इसके साथ ही कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य कर्मचारी पीपीई किट में मौजूद रहेंगे. चुनाव आयोग द्वारा सभी पोलिंग पार्टियों को ट्रेनिंग दी गई है

550 पोलिंग बूथों पर लगेगी ड्यूटी

आयोग द्वारा पोलिंग पार्टियों को तीन चरणों में ट्रेनिंग दी गई है. अंतिम चरण की ट्रेनिंग 5 और 6 अप्रैल को दी जाएगी, इसके बाद पोलिंग पार्टियों को उनके सम्बंधित पोलिंग बूथ के लिए रवाना कर दिया जाएगा. लगभग 550 पोलिंग बूथों पर पोलिंग पार्टियों की ड्यूटी लगाई जाएगी.

138 प्रधान पदों के लिए होगा चुनाव

इसके साथ ही आपको बता दें कि शिमला के टुटू, चौपाल और मंडी जिले के धर्मपुर ब्लॉक में कुल 138 प्रधान पदों के लिए चुनाव होगा. 10 जनवरी को प्रदेश भर में पंचायत चुनाव हुए थे. लेकिन इन ब्लाकों में प्रधान पदों के चुनाव का मामला हाईकोर्ट में विचाराधीन था. इसके कारण उस समय इन पंचायतो में चुनाव नहीं हो पाए थे. वहीं चुनाव जीतने के बाद दो प्रधानों की मौत हो गई थी.

7 अप्रैल को होगा मतदान

7 अप्रैल को होने वाले चुनाव में इन सभी रिक्त हुए पदों को भरा जाएगा. चुनाव आयोग द्वारा जारी की गई अधिसूचना के अनुसार सुबह 8 बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. शाम 4 बजे तक मतदान होगा. इसके तुरंत बाद उसी दिन वोटों की गिनती की जाएगी और नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे.