अंतरराष्ट्रीय वाटर कलर महोत्सव में रांची पहुंचे दुनियाभर से कलाकार

23 से 27 अगस्त तक अंतरराष्ट्रीय वाटर कलर महोत्सव - Panchayat Times

रांची. झारखंड की राजधानी रांची के आड्रे हाउस में 23 से 27 अगस्त तक अंतरराष्ट्रीय वाटर कलर महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है. महोत्सव में 24 देश और झारखंड सहित 25 भारतीय राज्यों के चित्रकार अपनी कला और कृतियों का प्रदर्शन करेंगे. पर्यटन कला, संस्कृति, खेलकूद एवं युवा कार्य विभाग इसका आयोजन कर रहा है. झारखंड बनने के 17 साल बाद इस तरह का बड़ा आयोजन पहली बार आड्रे हाउस में किया जा रहा है.

इस कार्यक्रम की घोषणा करते हुए पर्यटन, कला संस्कृति, खेलकूद एवं युवा कार्य मामले के सचिव डॉ. मनीष रंजन ने कहा कि इस महोत्सव के जरिए झारखंड की कला और संस्कृति को न केवल दिखाने का मौका मिलेगा बल्कि राज्य को उभरती वैश्विक कला और संस्कृति के गंतव्य के रूप में पेश करने के लिए आयोजित किया गया है. अंतरराष्ट्रीय कलाकार, स्कूल के छात्रों और कलाकारों से रुबरु होंगे. वे प्रकृति और आधुनिकता सहित कई विषयों पर चित्रों के माध्यम से संवाद भी करेंगे.

उन्होंने बताया कि झारखंड के सुंदर, शातिपूर्ण और सुदूर इलाके कलाकारों के दौरे के लिए आदर्श कैसे हैं. यह दिखाने के लिए एक विशेष कार्यक्रम भी बनाया गया है. आगंतुक एक साथ पेंटिंग बनाने वाले तीन कलाकारों की जुगलबंदी भी देख सकेंगे. साथ ही आकर्षणों में अंतरराष्ट्रीय कलाकार रांची के कुछ प्रमुख पर्यटन स्थलों पर जाकर अपने कैनवास चित्रित करेंगे. महोत्सव में झारखंड की समृद्ध संस्कृति और विविधता को प्रदर्शित करने के लिए दो दिवसीय सास्कृतिक कार्यक्रम की भी व्यवस्था की गई है.

23 से 27 अगस्त तक अंतरराष्ट्रीय वाटर कलर महोत्सव - Panchayat Times

ये भी पढ़ें- रांची में है एक ऐसा स्कूल जहां बदल दिए जाते हैं बच्चों के नाम

इस कार्यक्रकम में शामिल होने वाले विदेशी कलाकारों में एना मेसिनिसा (फैब्रियनो), अतुल पनसे (दुबई), एंड्रेस अचवार (चिली), फॉटी कल्गजेरी (अल्बेनिया), अली अब्बास और फातिमा अली (पाकिस्तान), ली निक्सन (इंग्लैंड), झोउ तियान्या, मोंग एंड मोंग शो (चीन), मेसिमिलीनो लोको (रोमा), दारायस राफैल्लो (ताइवान), ऐलेना डिज़ुबा (रूस), पावेल ग्लाडको (पोलैंड), सर्गियलिस्सी (लिथुआनिया), रॉबर्टो आद्रेली और उत्तम कर्मकार (इटली), सेल्मा टोडोरोवा और क्रसी टोडोरोव (बुल्गारिया), कौसर हुसैन मसूद, मिंटू डे और शोआग परवेज (बाग्लादेश), विक्टोरिया ग्रोगोरिवा (यूक्रेन), महासा इस्पुर (ईरान), एनबी गुरुंग और अनिता भट्टाराई (नेपाल) है.

23 से 27 अगस्त तक अंतरराष्ट्रीय वाटर कलर महोत्सव - Panchayat Times

वहीं, भारत के अलग-अलग राज्य से आये कलाकारों में मिलिंद मुलिक, सेलेश मेश्रम और संजय देसाई (पुणे), निरुपम कंवर, कविता वर्धन और प्रतिमा कुमार (बंगलोर), रमेश झवार (चेन्नई), बीच कक्कड़ (राची), बिजय बिस्वाल (नागपुर), सुबोध कुमार (जमशेदपुर), ब्रजमोहन आर्य (जबलपुर), अनिकेत महाले (नासिक), अनिल कुमार (बनारस), अवीक बिंदू और रजत शुभ्र बंद्योपाध्याय (दिल्ली), साधु अलीर (केरल), कौशिक घोष, अमलेश मजूमदार और हितेश दास (पश्चिम बंगाल), प्रशात खतुआ और तपन रॉय (कोलकाता) शामिल है.