मुंबई में जबना चौहान ने बताया, क्या है महिलाओं की सबसे बड़ी चुनौती

जबना चौहान ने मुंबई में आयोजित महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम - Panchayat Times

मंडी. देश की युवा प्रधान जबना चौहान ने कहा कि नशा देश के सामने एक बड़ी चुनौती है. महिलाओं युवाओं और समाज के हर वर्ग को मिलकर इस चुनौती का सामना करना होगा. मुंबई में आयोजित राष्ट्रीय महिला सशक्तीकरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने देश की बेटियों से लक्ष्य निर्धारित कर आगे बढ़ने की अपील की. मंडी जिला से संबंध रखने वाली देश की युवा प्रधान जबना चौहान ने मुंबई में आयोजित महिला सशक्तीकरण कार्यक्रम में भाग लिया. दी वेटर इंडिया समूह द्वारा आयोजित इस राष्ट्रीय स्तर के कार्यक्रम में जबना चौहान ने उनके द्वारा अपनी पंचायत और समाज के लिए किए जा रहे कार्यों को साझा किया.

इस अवसर पर जबना चौहान ने महिलाओं और युवाओं से नशे के खिलाफ एक देशव्यापी मुहिम शुरू करने की अपील की. जबना चौहान ने कहा कि नशा आज की युवा पीढ़ी को बर्बादी की ओर ले जा रहा है, जो देश के लिए एक चिंतनीय विषय है. उन्होंने कहा कि इस पर केंद्र और प्रदेश की सरकारों को समय रहते सोचना होगा. साथ ही महिलाओं और युवाओं को इस पर सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए कार्य करना होगा.

ये भी पढ़ें- पंचायतों में पांच लाख से ऊपर के काम के लिए करवाना होगा टेंडर

द वेटर इंडिया समूह द्वारा डल मोटर इंडिया के सहयोग से आयोजित इस राष्ट्रीय महिला सशक्तीकरण कार्यक्रम में जबना चौहान सहित देश की छह महिला चेंजमेकर्स मौजूद रही. जिन्होंने अपने-अपने अनुभवों को इस मंच पर साझा किया. इस कार्यक्रम में सुप्रसिद्ध अदाकारा और सामाजिक कार्यकर्ता नंदिता दास ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत किया. इस अवसर पर नंदिता दास ने युवा प्रधान जबना चौहान को महिला सशक्तीकरण पर उनके द्वारा किए जा रहे सराहनीय कार्यों के लिए सम्मानित भी किया. इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य महिला सशक्तीकरण के प्रति महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा प्रेरित करना और समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए प्रोत्साहित करना था.