उड़ान-दो योजना जल्दी शुरू करने की मांग कर रहे हैं मुख्यमंत्री

हिमाचल में उड़ान-दो परियोजना आरम्भ करने से सम्बन्धित औपचारिकताओं को शीघ्र...

शिमला. मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने गुरुवार को नई दिल्ली में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु से भेंट की. इस अवसर पर उन्होंने हिमाचल में उड़ान-दो परियोजना आरम्भ करने से सम्बन्धित औपचारिकताओं को शीघ्र पूरा करने का अनुरोध किया. उन्होंने कहा कि राज्य में कनेक्विटी एक बड़ा मुद्दा है तथा पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए एयर कनेक्विटी अति आवश्यक है.

उन्होंने केन्द्रीय मंत्री को अवगत करवाया कि उड़ान-प्प् परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट और अन्य औपचारिकताओं को पूरा करने में बहुत देरी हो रही है तथा आग्रह किया कि इस अवधि के दौरान चंडीगढ़-बद्दी-कसौली-शिमला-कुल्लू-धर्मशाला के लिए हेलिकॉप्टर सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए अंतरिम व्यवस्था की जाए.

ये भी पढ़ें- रोहतांग और गुलाबा में बर्फबारी से सैलानियों के चेहरे खिले

मुख्यमंत्री ने मण्डी में बनने वाले अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के मामले को भी उठाया तथा अवरोध परिसीमा सर्वेक्षण शीघ्र करवाने का भी आग्रह किया, जिससे कि शेष अनापत्तियां मिल सकें. उन्होंने शिमला हवाई अड्डे में बड़े विमान के उतारने के लिए तकनीकी समाधान उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया. सुरेश प्रभु ने अवरोध परिसीमा सर्वेक्षण शीघ्र करवाने का आश्वासन दिया तथा मंत्रालय के अधिकारियों को अंतरिम व्यवस्था सुनिश्चित बनाने तथा उड़ान-दो को शीघ्र आरम्भ करने के निर्देश दिए.