झारखंड : हेमंत सरकार की छठ गाइडलाइंस को भाजपा ने बताया तुगलकी फरमान, तालाब में खड़े होकर जताया सांकेतिक विरोध

झारखंड : हेमंत सरकार की छठ गाइडलाइंस को भाजपा ने बताया तुगलकी फरमान, तालाब में खड़े होकर जताया सांकेतिक विरोध - Panchayat Times
Jharkhand BJP's leader protest over Chhath guidelines in Ranchi

रांची. झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार द्वारा महापर्व छठ को लेकर जारी की गयी गाइडलाइंस को लेकर बवाल मचा हुआ है. गॉइडलाइंस के अनुसार किसी को छठ घाट पर जाकर पूजा करने की अनुमति नहीं दी गयी है. इसी को लेकर विपक्षी दल भाजपा के कई विधायकों ने इसका विरोध दर्ज किया है.

डोरंडा स्थित बटन तालाब में खड़े होकर दर्ज कराया सांकेतिक विरोध

रांची के सांसद संजय सेठ समेत अन्य ने रांची के तालाब में खड़े होकर आज सांकेतिक विरोध दर्ज कराया. सत्ताधारी दल झामुमो की विधायक व पदाधिकारी ने भी सीएम से गाइडलाइंस में संशोधन कर छूट देने की मांग की है.

झारखंड सरकार की ओर से छठ महापर्व को लेकर जारी गाइडलाइंस के विरोध में रांची से भाजपा सांसद संजय सेठ, पूर्व मंत्री व रांची विधायक सीपी सिंह, हटिया विधायक नवीन जायसवाल समेत अन्य भाजपा नेताओं ने रांची के डोरंडा स्थित बटन तालाब में खड़े होकर विरोध दर्ज कराया.

रांची के सांसद संजय सेठ ने कहा कि तुगलकी फरमान जारी कर सरकार लोक आस्था के साथ खिलवाड़ कर रही है. ये ठीक नहीं है.