रघुवर चाहें झारखंड भाजपा के सभी नेता पहले कार्यकर्ता बनें

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को जिला के कुंडहित प्रखंड...

जामताड़ा. नेताओं के चक्कर नहीं काटें, बल्कि गांव-गांव में प्रत्येक व्यक्ति के घर जाकर उनसे सर्म्पक करें. उनकी समस्याओं को सुनें और सरकार द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों के बारे में बतायें. यह बातें झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को जिला के कुंडहित प्रखंड अर्न्तगत धेनुकडीह मैदान में आयोजित बूथ स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कही.

मुख्यमंत्री दास ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने अलग झारखंड का सपना साकार कराया. अब राज्य के बेहतर भविष्य के कार्यकर्ताओं को कमर कसना पड़ेगा. उन्होंने कहा, पार्टी में नेता कोई नहीं है, बल्कि हम सभी कार्यकर्ता हैं. इसलिए पार्टी के लोग एक-दूसरे को आदेश देना बंद करें और टीम बनाकर क्षेत्र में जनता के बीच जाएं.

विपक्षी दलों की आलोचना करते हुए उन्होंने संताल में व्याप्त भयंकर गरीबी के लिए बिचौलियों की तरह क्षेत्र को लूटने वाले झामुमो, झाविमो जैसे दलों को आड़े हाथों लिया. बाबूलाल मरांडी को बेइमान करार देते हुए दास ने कहा कि संताल ने तीन-तीन मुख्यमंत्री दिये, लेकिन क्षेत्र की गरीबी घटने की बजाए बढ़ती चली गई. उन्होंने कहा कि संताल को बिचौलियों की तरह लूट रहे विपक्षी दलों को जड़ से उखाड़ फेंकना होगा.

 झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को जिला के कुंडहित प्रखंड...
फाइल फोटो

ये भी पढ़ें- झारखंड में अब इतनी पेंशन मिलेगी, सीएम ने किया ऐलान

हमारी सरकार संताल की गरीबी दूर करने के लिए कृषि और पत्थर उद्योग के विकास के लिए बेहतर रणनीति बनाने का प्रयास कर रही है. हाल ही में कृषि को लेकर कराए गए वैश्विक सम्मेलन की चर्चा करते हुए कहा कि अब जरूरत है कि राज्य के मेहनतकश किसान जैविक खेती को अपनाएं और अधिक से अधिक उत्पादन सुनिश्चित करें. किसानों के उत्पाद को बाजार मुहैया कराना सरकार की जिम्मेदारी है. सम्मेलन में मुख्यमंत्री दास के अलावा संताल परगना प्रभारी रमेश हांसदा, प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर, पूर्व मंत्री सत्यानंद झा बाटुल, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य माधव चन्द्र महतो, अमिता रक्षित, अनुप यादव, शान अली, कमल गुप्ता, बीरेन्द्र मंडल, सोमनाथ सिंह सहित नाला विधानसभा के विभिन्न इलाकों से आये काफी संख्या में नेता और कार्यकर्ता उपस्थित थे.

संथाल के दौरे पर आयेगी स्किल डेवलपमेंट मंत्रालय की टीम

मुख्यमंत्री दास ने कहा कि हमारी सरकार संताल की गरीबी दूर करने के लिए कृषि और पत्थर उद्योग के विकास के लिए बेहतर रणनीति बनाने का प्रयास कर रही है. स्थानीय स्तर पर रोजगार सुनिश्चित करने के लिए जल्द ही स्किल डेवलपमेंट मंत्रालय की टीम को संथाल के दौरे पर भेजी जायेगी.