झारखंड: कोरोना से जूझ रहे शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को ले जाया जा सकता है चेन्नई

झारखंड: कोरोना से जूझ रहे शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को ले जाया जा सकता है चेन्नई - Panchayat Times
Jharkhand CM Hemant Soren knows about the health of Jagarnath Mahto

रांची. कोरोना से संक्रमित झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को आज (19 अक्टूबर) शाम को एयर एंबुलेंस से चेन्नई ले जाया जा सकता है. गंभीर रूप से बीमार शिक्षा मंत्री को मेडिका में देखने के लिए आज सुबह चेन्नई से डॉक्टरों की दूसरी टीम भी रांची पहुंची. इसी दौरैन मुख्यमंत्री भी मेडिका पहुंचे हैं.

एकमो मशीन पर है जगरनाथ महतो

इससे पहले, चेन्नई के विशेषज्ञ डॉक्टरों ने शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो का क्लिनिकल रिव्यू करने के बाद उन्हें एकमो मशीन (Extracorporeal membrane oxygenation) पर डाल दिया गया था. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विशेष आग्रह पर रविवार देर रात चेन्नई से रांची पहुंची विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम की सलाह के बाद ऐसा किया गया. विशेषज्ञ डॉक्टरों की सलाह पर देर रात ही इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गयी. एकमो को आम बोलचाल की भाषा में आर्टिफिशियल लंग्स कहा जाता है.

28 सितंबर, 2020 से चल रहा है इलाज

कोरोना वायरस से संक्रमित शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो का मेडिका के क्रिटिकल केयर यूनिट में इलाज चल रहा है. 28 सितंबर, 2020 को कोरोना से संक्रमित होने के बाद उन्हें बोकारो से राजधानी रांची लाया गया और राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) के कोविड-19 वार्ड में भर्ती कराया गया. 1 अक्टूबर को यहां उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गयी और आनन-फानन में शिक्षा मंत्री को मेडिका अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया.