झारखंड में ‘आयुष्मान भारत’ की तैयारियां जोरों पर

आयुष्मान भारत नाम दिया गया है को सफल बनाने के लिए केंद्र की मदद झारखंड

रांची. प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) जिसे आयुष्मान भारत नाम दिया गया है को सफल बनाने के लिए केंद्र की मदद झारखंड में तैयारियाँ जोरों पर चल रही है और 23 सितंबर को नरेन्द्र मोदी रांची में इस योजना को लॉन्च करेंगे. इसी सिलसिले में बीते गुरुवार को रांची में जन जागरूकता अभियान के लिए सूचना प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत लोक संपर्क एवं संचार ब्यूरो के गीत एवं नाटक प्रभाग ने लोक कलाकारों के लिए एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया ताकि ये कलाकार इस योजना को प्रदेश के 19 जिले जहां ये लागू होनी है में इसका सफलता से आम जन तक प्रसार कर सके.

झारखंड के स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे ने कहा कि लोगों को आयुष्मान भारत के बारे में जागरूक बनाएँगे. जिसके लिए हमें लोक कलाकारों की जरूरत होगी. इस योजना के अंतर्गत 1350 बीमारियों के लिए नि:शुल्क उपचार कि व्यवस्था कि गयी है. जिसके लिए प्रत्येक वर्ष एक परिवार को 5 लाख रुपये तक का बीमा दिया जाएगा. इस योजना का लाभ पाने के लिए राशन कार्ड कि अनिवार्यता है जिसके जरिए लाभुक भारत के किसी भी सूचीबद्ध अस्पताल से किसी भी बीमारी का इलाज करा सकता है. इस योजना के लिए 60 प्रतिशत राशि केंद्र देगी जबकि 40 प्रतिशत खर्च राज्यों को वहन करना होगा.

19 जिलो में प्रथम चरण का अभियान

नेशनल हेल्थ मिशन के अभियान अधिकारी क़ृपानंद झा ने कहा कि हमने सभी सिविल सर्जनों को पत्र लिखकर निर्देश कि वो कलाकारों को प्रचार प्रसार में उक्त जिले मे पूर्ण समर्थन दे. गीत एवं नाटक प्रभाग के लोक एवं पारंपरिक कलाकारों को झारखंड के 19 जिलो में प्रथम चरण के अभियान के लिए 350 कार्यक्रमों के जरिये इस बीमा योजना को नाटक, नृत्य और गीत के माध्यम से जन-जन तक पहुचाने का लक्ष्य दिया गया है.

ये भी पढ़ें- टीपीसी का सब-जोनल कमांडर गिरफ्तार, पत्रकार की हत्या का मुख्य आरोपी

झारखंड आरोग्य समिति के कार्यपालक निदेशक दिव्यान्शु झा ने बताया कि वो पूरी कोशिश करेंगे कि राज्य के बाकि पांच जिले में भी इस योजना से संबन्धित जानकारी प्रदान करने के लिए वो अपने सरकार के स्तर से गीत एवं नाटक प्रभाग के लोक एवं पारंपरिक कलाकारों द्वारा कार्यक्रमों का आयोजन करा कर पूरे झारखंड में इस योजना के बारे में जन जागरूकता लायी जाएगी.