झारखंड : पंचायतों में आसानी से हो जनता के काम इसके लिए 1,395 पदों पर होगी नियुक्ति, हेमंत सोरेन सरकार ने दी मंजूरी

झारखंड : पंचायतों में आसानी से हो जनता के काम इसके लिए 1,395 पदों पर होगी नियुक्ति, हेमंत सोरेन सरकार ने दी मंजूरी - Panchayat Times
Jharkhand CM with his Cabinet colleague Alamgir Alam

रांची. राज्य के ग्रामीण विकास विभाग (पंचायती राज) में 526 जूनियर इंजीनियर और 869 क्‍लर्क/कंप्‍यूटर ऑपरेटर की एक साथ बहाली निकल रही है. सरकार की अधिसूचना के साथ ही पंचायत स्तर पर अनुबंध पर अपनी सेवाएं मुहैया कराने वाले कर्मियों की बहाली का रास्ता साफ हो गया है. इस संदर्भ में शुक्रवार को अधिसूचना प्रकाशित की गई.

ग्रामीण विकास विभाग (पंचायती राज) के स्तर से 15वें वित्तायोग की राशि त्रिस्तरीय पंचायतों को दे दी गई है. इसके साथ ही पंचायत स्तर पर अनुबंध पर अपनी सेवाएं मुहैया कराने वाले कर्मियों की बहाली का रास्ता भी साफ हो गया है. इस संदर्भ में शुक्रवार को सरकार ने अधिसूचना प्रकाशित की गई.

अब पंचायतें कर सकती है वार्षिक अनुबंध

अधिसूचना जारी होने के बाद अब पंचायतें 15वें वित्तायोग अनुदान का उपयोग अनिवार्य गतिविधियों में पंचायतों में ग्रामीण निवासियों को सेवाएं प्रदान करने के लिए वार्षिक रख-रखाव, सेवा अनुबंध कर सकती हैं.

इस प्रावधान के आलोक में ग्राम पंचायत ऑनलाइन कार्यों के संपादन में तकनीकी सहायता उपलब्ध कराने के लिए ग्राम पंचायत सेवा अनुबंध के आधार पर दो तरह के कर्मियों की सेवा प्राप्त कर सकती हैं.

कितने होंगे कर्मचारी

सेवा अनुबंध के विरुद्ध ग्राम पंचायत द्वारा कर्मी को भुगतान 15वें वित्तायोग मद से किया जा सकेगा. यह कनीय अभियंता के रूप में कार्यरत अनुबंध कर्मी के लिए 17 हजार रुपये मासिक और लेखा लिपिक सह कंप्यूटर ऑपरेटर के लिए दस हजार होगा. कनीय अभियंता प्रत्येक प्रखंड में दो (कुल 526) व लेखा लिपिक सह कंप्यूटर ऑपरेटर प्रत्येक पांच पंचायत पर एक (कुल 869) होंगे.

चयन के लिए जिला स्तर पर अभ्यर्थियों का तैयार किया जाएगा पैनल

ग्राम पंचायत द्वारा सेवा अनुबंध के लिए कर्मियों के चयन के लिए जिला स्तर पर अभ्यर्थियों का एक पैनल तैयार किया जाएगा. जिला स्तरीय समिति जिसके अध्यक्ष उपायुक्त होंगे के द्वारा चयन के संबंध में अनुशंसा की जाएगी.