झारखंड में तीसरे चरण का मतदान 64% से पार

लोकसभा के चौथे और अंतिम चरण में संथाल परगना... - Panchayat Times
प्रतीक चित्र

रांची. देश के छठे और झारखंड के तीसरे चरण में गिरिडीह, धनबाद, जमशेदपुर औऱ सिंहभूम (एसटी) लोकसभा सीटों के चुनाव के लिए रविवार को 8,300 मतदान केंद्रों पर 66,85,401 मतदाताओं में से 64 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर 67 उम्मीदवारों के भाग्य को इवीएम में बंद कर दिया.

राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एल खियांग्ते ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इन चारों क्षेत्रों में कडी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हुआ और शाम 4 बजे मतदान शांतिपूर्ण संपन्न हो गया. उन्होंने बताया कि गिरिडीह में 65.93, धनबाद में 59.6, जमशेदपुर में 66.44 और सिंहभूम में 67.79 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने-अपने वोट डाले. उन्होंने बताया कि इन चार क्षेत्रों में कुल मतदान का प्रतिशत 64.46 रहा. उन्होंने बताया कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में गिरिडीह में 64.25, धनबाद में 60.53, जमशेदपुर में 66.23 और सिंहभूम में 69 प्रतिशत मतदान हुआ था. उन्होंने बताया कि वर्ष 2014 में इन चारों क्षेत्रों में कुल मतदान 64.53 रहा था. उन्होंने बताया कि मतदान के दौरान कहीं से कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है.

दो राजनीतिक दलों के बीच झड़प

राज्य के पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता सह पुलिस महानिरीक्षक अभियान आशीष बत्रा ने बताया कि देश के 30 अतिउग्रवाद प्रभावित जिलों में से 13 जिले झारखंड के हैं और इनमें से चार जिले गिरिडीह, बोकारो, सरायकेला और चाईबासा में रविवार को मतदान हुआ. इन क्षेत्रों में मतदान पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा और जनता ने नक्सलियों के अपील को नकार दिया तथा ग्रामीण क्षेत्रों में मत प्रतिशत को बढाने का काम किया. उन्होंने कहा कि पूर्वी सिंहभूम जिले के जुगसलाई के सेंट जॉन स्कूल के पास दो राजनीतिक दलों के बीच झड़प हुई. उन्होंने बताया कि पुलिस ने झडप को शांत कराया तो बस्ती की तरफ पुलिस पर पथराव किया गया. पुलिस को लाठीचार्ज करना पडा और इस घटना में तीन-चार पुलिसकर्मी एवं तीन –चार नागरिक घायल हुए हैं. इस घटना में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

ये भी पढ़ें- राजधानी दिल्ली समेत सात राज्यों में वोटिंग…

उन्होंने कहा कि इस घटना से मतदान प्रभावित नहीं हुआ. उन्होंने बताया कि पश्चिम सिंहभूम के गोयलकेला के काशीजोर नगरी के पास नक्सलियों द्वारा आइडी बलास्ट करने तथा तीन-चार राउंड फायर करने की सूचना मिली है. लेकिन यह स्थल मतदान केन्द्र से सात-आठ किमी दूर स्थित था. उन्होंने कहा कि सभी मतदान केन्द्रों पर पुलिस बल की तैनाती की गयी थी. अतिसंवेदनशील बूथों पर अर्द्ध सैनिक बलों को तैनात किया गया था. इन चारों सीट के लिए कुल 67 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. इसमें 57 पुरुष और 10 महिला उम्मीदवार हैं. प्रमुख उम्मीदवारों में राज्य के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री चंद्र प्रकाश चौधरी, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा, सांसद पीएन सिंह व विद्युतवरण महतो, राज्य के पूर्व मंत्री चंपई सोरेन, पूर्व निर्दलीय मुख्यमंत्री मधु कोड़ा की पत्नी व विधायक गीता कोड़ा और पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद शामिल हैं.

175 कंपनी केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बल

गिरिडीह सीट से 15, धनबाद से 20, जमशेदपुर से 23 और सिंहभूम (एसटी) सीट से 9 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं. इन चार सीटों के लिए एआईटीसी के 2, बहुजन समाज पार्टी के 4, भारतीय जनता पार्टी के 3, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 2, आजसू के 1, झारखंड मुक्ति मोर्चा के 2 के अलावा मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल ( मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय व राज्यस्तरीय राजनीतिक दलों के अलावा) के 31 और 22 निर्दलीय प्रत्याशी शामिल हैं. मतदान को शांतिपूर्ण सम्पन्न कराने के लिए लगभग 40 हजार सुरक्षकर्मी तैनात किये गये थे. इनमें 175 कंपनी केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बल, 52 कंपनी राज्य पुलिस, 20,375 जिला पुलिस औऱ 5,972 पुलिस अफसरों को तैनात किया गया था. इमरजेंसी के लिए एक एयर एंबुलेंस की व्यवस्था भी की गई थी. संवेदनशील मतदान केंद्रों की निगरानी के लिए 3 हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया भी किया गया.

8,300 कंट्रोल यूनिट

मतदान प्रक्रिया के सफल संचालन के लिए 36,464 मतदानकर्मी प्रतिनियुक्त किए गए थे . इसमें गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र में 9724, धनबाद में 11172, जमशेदपुर में 8811 और सिंहभूम में 6957 मतदानकर्मी प्रतिनियुक्त किए गए थे. इसके अलावा 4 सामान्य ऑब्जर्वर, 8 व्यय ऑब्जर्वर औऱ 4 पुलिस ऑब्जर्वर प्रतिनियुक्त किए गए थे. इन चार सीटों पर मतदान के लिए 8,300 कंट्रोल यूनिट, 12,724 बैलेट यूनिट और 8,300 वीवीपैट का इस्तेमाल किया गया. चार सीटों पर 886 मतदान केंद्रों की वेबकास्टिंग की गयी. इसमें गिरिडीह के 208, धनबाद के 271, जमशेदपुर के 233 और सिंहभूम के 174 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग हुई. इन मतदान केंद्रों से होने वाली वेबकास्टिंग की मॉनिटरिंग मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय, झारखंड रांची एवं जिलों के जिला निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में बनाए गए वेबकास्टिंग नियंत्रण कक्ष से की गयी.

36 आदर्श मतदान केंद्र

इन सीटों के मतदान में महिलाओं द्वारा संचालित होनेवाले कुल मतदान केंद्रों की संख्या 85 रही. इसके तहत गिरिडीह में 25, धनबाद में 18, जमशेदपुर में 25 औऱ सिंहभूम में 17 मतदान केंद्र महिलाओं ने संचालित किये. इन मतदान केंद्रों की व्यवस्था पूरी तरह महिला कर्मियों के हाथों में रही. इसके अलावा चारों लोकसभा सीटों पर 390 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए थे. इसमें गिरिडीह में 105, धनबाद में 120, जमशेदपुर में 129 औऱ सिंहभूम लोकसभा क्षेत्र में 36 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए थे.