झारखंड को बायो एनर्जी हब बनाया जायेगाः धर्मेंद्र प्रधान

रांची. केंद्रीय पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस व इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि झारखंड को बायो एनर्जी हब बनाया जाएगा. यहां कोल बेडेड मिथेन, एथनोल, नेचुरल गैस, सोलर एनर्जी, बायो एनर्जी के क्षेत्र में काफी काम किया जा सकता है.मंत्रालय इस दिशा में काम कर रहा है. यहां के वनोपज से जेट फ्यूल भी तैयार किया जाएगा. इससे यहां के लोगों को आमदनी का नया स्त्रोत मिलेगा.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के प्रयास से मंत्रालय से जुड़ी कंपनियों ने काफी अच्छा काम किया है. उनका मंत्रालय राज्य सरकार के साथ हर कदम पर साथ है. सितंबर के पहले सप्ताह में सिटी गैस वितरण की शुरुआत की जायेगी. इसके साथ ही रांची व जमशेदपुर में गैस आधारित श्मशान घाट का भी शिलान्यास किया जाएगा. यह पर्यावरण के अनुकूल होने के साथ ही पैसे और समय बचाएगा.

इस्पात मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान पहुंचे जमशेदपुर, स्टूडेंट बनकर

उन्होंने कहा कि राज्य में उनके मंत्रालय से जुड़ी कंपनियों ने लगभग 10 हजार करोड़ रुपये का निवेश किया है. इससे राज्य में रोजगार के अवसर बढ़े हैं. बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार भी मिल रहा है. आनेवाले समय में इनसब का असर दिखेगा. ओएनजीसी राज्य में कोल बेडेड मिथेन गैस पर तेजी से काम कर रही है.अगले तीन-चार साल में इनके पूर्ण रूप से शुरू हो जाने से न केवल लोगों को सस्ती गैस मिलेगी. झारखंड को भी काफी राजस्व मिलेगा.

बैठक में राज्य के मुख्य सचिव डीके तिवारी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल समेत केंद्र व राज्य सरकार के अधिकारी, ओएनजीसी, आईओसीएल, बीपीसीएल, एचपीसीएल, गेल, सेल, बीएसएल, इंडेन समेत अन्य कंपनियों के अधिकारी उपस्थित थे.