सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत हेमंत सोरेन ने किया पंचायतों का दौरा ग्रामीणों से बोले अगर उन्हें कोई परेशानी है तो इसकी जानकारी दें आपकी समस्या दूर की जाएगी

सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत हेमंत सोरेन ने किया पंचायतों का दौरा ग्रामीणों से बोले अगर उन्हें कोई परेशानी है तो इसकी जानकारी दें उनकी समस्या दूर की जाएगी - Panchayat Times
CM-Hemant soren in a panchayat

रांची. झारखंड में दुमका और बेरमो सीट पर उपचुनाव होना है. इसको देखते हुए सीएम हेमंत सोरेन तीन दिवसीय दौरे पर सोमवार से दुमका में हैं. इस दौरान उन्होंने कहा कि राज्य के सभी गरीबों वंचितों किसानों मजूदरों और जरुरतमंदों को हर हाल में उनका हक मिलेगा. इसमें किसी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. इस बाबत अधिकारियों को दिशा निर्देश दे दिए गए हैं.

राज्य के सभी गरीबों वंचितों किसानों मजूदरों और जरुरतमंदों को हर हाल में उनका हक मिलेगा

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने मंगलवार को दुमका जिले के मसलिया प्रखंड स्थित धोबनाहरिण बहाल सांपचला कुसुमभट्टा और मोहनपुर पंचायत में आयोजित सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने यह संकल्प लिया है कि60 साल से ज्यादा उम्र के सभी लोगों वृद्द्वस्था पेंशन और किसी भी उम्र की विधवा को विधवा पेंशन योजना का लाभ दिया जाएगा. लोगों को सरकार की योजनाओं का लाभ मिले इसकी कार्ययोजना तैयार कर ली गई है. झारखंड के सर्वांगीण विकास के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. इस दिशा में तेजी से कार्य चल रहा है.

समस्याओं को दूर करने की पहल शुरू

मुख्यमंत्री ने कहा कि लंबे समय से समस्याएं विद्धमान हैं उसे दूर करने का कार्य आरंभ कर दिया गया है और निरंतर चलेगा राशन कार्ड में नाम जोड़ने लाभुकों तक योजनाओं को पहुंचाने. स्वास्थ्य सुविधाओं में विस्तार लोगों को रोजगार देने समेत राज्य के विकास के लिए सरकार पहल कर रही है.

मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से आग्रह किया कि अगर उन्हें किसी तरह की परेशानी है तो इसकी जानकारी प्रशासन को दें. उनकी समस्या दूर की जाएगी. सरकार हर व्यक्ति तक विकास को पहुंचाने के लिए कृत संकल्प है.

कोरोना संकट में राहत पहुंचाने का काम

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है. लेकिन हमारी सरकार ने सीमित संसाधनों के साथ कोरोनो को रोकने और बचाव के साथ संक्रमितों के इलाज के लिए बेहतरीन कार्य किया. कोरोना महामारी के बीच लोगों को राहत पहुंचाने का काम सरकार लगातार करती आ रही है.

गरीबों और जरुरतमंदों को मुफ्त में अनाज के साथ भोजन देने का अभियान चलाया गया. प्रवासी मजदूरों को हवाई जहाज और ट्रेनों के मार्फत वापस लाया गया. उनके रोजगार की दिशा में लगातार ने कई योजनाएं शुरू की है. हमारी सरकार ने कोरोना से निपटने के लिए बेहतरीन प्रबंधन किया.

कोरोना का खतरा टला नहीं सतर्कता बरतें

मुख्यमंत्री ने कहा कि शहरों की तुलना में ग्रामीण इलाकों में कोरोना का प्रभाव कम है लेकिन हमें सतर्क रहने की जरूरत है. इस महामारी का खतरा अभी टला नहीं है. इसका इलाज भी अभी तक नहीं खोजा जा सका है. ऐसे में इस महामारी से बचाव के लिए सरकार ने जो दिशा निर्देश जारी किए हैं उसका जरूर पालन करें.

रोजगार उपलब्ध कराने के लिए विस्तृत कार्ययोजना

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी ने हमारी अर्थव्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित किया है. इस वजह से कई फैक्ट्रियां बंद हो गई हैं. लोगों की नौकरियां चली गई है. बेरोजगारों की संख्या तेजी से बढ़ी है. लाखों प्रवासी मजदूर वापस आए हैं. ऐसे में इन्हें रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने पहल शुरू कर दी है.

मनरेगा के तहत तीन नई योजनाएं चलाई जा रही है तो शहरी श्रमिक रोजगार योजना भी शुरू की जा रही है ताकि शहरों में रहने वालों को भी रोजगार मिल सके. इस योजना के तहत रोजगार नहीं मिलने पर बेरोजगारी भत्ता देने का भी प्रावधान किया गया है.

महिलाओं को स्वावलंबी व आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाओं को स्वावलंबी और आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है. सखी मंडलों को मजबूत किया जा रहा हैं. उन्हें राशि उपलब्ध कराई जा रही है ताकि इन मंडलों से जुड़ी महिलाएं खुद अपने पैरों पर खड़ा हो सके.