झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को मिली धमकी

झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को प्रतिबंधित नक्सली संगठन...Panchayat Times

गिरिडीह. झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादियों ने धमकी भरा पत्र भेजा है. बाबूलाल मरांडी ने संपर्क करने पर मंगलवार को बताया कि पत्र में कहा गया है कि इस संवाद साधन के जरिए भाकपा माओवादी संगठन झारखंड की ओर से आपको सूचित किया जा रहा है कि संगठन के साथ झारखंड में लोकसभा की कुल 14 सीटों को लेकर भारतीय जनता पार्टी के साथ समझौता हुआ है.

यह भी पढ़े: गांव और गरीब का विकास भाजपा सरकार ही कर सकती है : अर्जुन मुंडा

समझौते में भारतीय जनता पार्टी का उम्मीदवार के पक्ष में ऐतिहासिक जीत दर्ज करवाने का जिम्मा भाकपा माओवादी संगठन को मिला है. इसे आवश्यक समझे. संगठन की ओर से आपको 23 अप्रैल से 19 मई तक झारखंड में रहने के लिए प्रतिबंध है. इसके अलावा संगठन की ओर से आपको 48 घंटे का समय दिया जा रहा है और निर्देश दिया जाता है कि इस निर्धारित समय में आप 17 को लोकसभा चुनाव झारखंड में अपनी पार्टी झारखंड विकास मोर्चा के उम्मीदवार को बैठा दें, और 19 मई तक झारखंड से बाहर रहें. इसे अक्षरस पालन करें.

अन्यथा आप को कोडरमा कांग्रेस जिला अध्यक्ष शंकर यादव की तरह सरेआम वाहन समेत उड़ा दिया जाएगा. यह पत्र अधिवक्ता अविनाश सिन्हा के लेटर पैड पर लिख कर दिया गया है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. उल्लेखनीय है कि बाबूलाल मरांडी कोडरमा लोकसभा सीट से विपक्षी गठबंधन के उम्मीदवार हैं.