कल्पना ठाकुर ने एशिया की सबसे ऊंची चोटी फतह की

कुल्लू की ब्रेंड एंबेसडर कल्पना ठाकुर ने माईनस डिग्री तापमान में एशिया की सबसे ऊंची

कुल्लू. नन्हीं पर्यावरणविद एवं प्रेस क्लब ऑफ कुल्लू की ब्रांड एंबेसडर कल्पना ठाकुर ने माइनस डिग्री तापमान में एशिया की सबसे ऊंची चोटी फतह की है. 18,870 फुट ऊंची खरदुंगला पीक पर कल्पना ने तिरंगा लहराया. कल्पना के साथ उनके पिता अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरणविद एवं ग्रीन मैन किशन ठाकुर खरदुंगला पीक फतह करने गए थे.

जम्मू कश्मीर प्रशासन ने कल्पना के बुलंद हौसलों की तारीफ की है और बाकायदा पीक पर जाने की लिखित अनुमति दी. वहीं, कल्पना पीक को फतह करने में हुई कामयाबी से बेहद खुश है. उधर प्रेस क्लब ने कल्पना को सम्मानित करने का ऐलान किया है. अगले माह होने वाले आयोजन में कल्पना को सम्मानित किया जाएगा. इससे पहले गत वर्ष कल्पना ठाकुर मूलिंग पीक फतेह कर चुकी हैं.

दल रविवार को रवाना हुआ

प्रेस क्लब ऑफ कुल्लू के ग्रीन हिमालय क्लीन हिमालय और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के संदेश को पश्चिमी हिमालय में फैलाने के लिए दो सदस्यीय दल रविवार को रवाना हुआ. पर्यावरण और बेटी बचाओ का संदेश लेकर यह दल लाहौल-स्पीति और लेह लद्दाख की संस्थाओं से मिला. इसके साथ ही कई दर्रों को पार करने के बाद दल ने खरदुंगला चोटी को फतह किया.

लाहौल-स्पीति और लेह लद्दाख का भ्रमण

कल्पना पहले 17,582 फुट तंगलंगला दर्रे पर पहुंची और उसके बाद खरदुंगला पीक पर विजय हासिल की. सीनियर सिटिजन फॉर्म मनाली ने 12 अगस्त को हरी झंडी दिखाकर कल्पना के दल को मनाली से रवाना किया. उन्होंने इस कार्य की सराहना करते हुए दल के सदस्यों को बधाई दी. प्रेस क्लब के ब्रैंड एबैंसडर एवं प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय पर्यावरणविद किशन लाल की अगुवाई में पश्चिमी हिमालय के जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति और लेह-लद्दाख का भ्रमण किया. कल्पना ठाकुर वो शख्सियत है जो बचपन से पेड़ों को भाई मानती है और राखी बांधकर उनकी रक्षा करती है.

कुल्लू की ब्रेंड एंबेसडर कल्पना ठाकुर ने माईनस डिग्री तापमान में एशिया की सबसे ऊंची

ट्रैकिंग, माउंटेनिंग और रॉक क्लाइम्बिंग

वर्तमान में दो वर्ष से प्रेस क्लब के हिमालय बचाओ अभियान में जुटी हुई हैं. पर्यावरण के क्षेत्र में इस नन्हीं पर्यावरणविद को ठाकुर वेदराम मैमोरियल पुरस्कार के अलावा अन्य कई पुरस्कार भी मिल चुके हैं. कल्पना ट्रैकिंग, माउंटेनिंग और रॉक क्लाइम्बिंग आदि विधाओं में भी निपुण है.

ग्रीन हिमालय क्लीन हिमालय

यह दल यहां पर कई संस्थााओं से मिला और प्रेस क्लब का यह संदेश सभी संस्थाओं को दिया. यही नहीं हिमालय की नदियों को बचाने के बारे में गांवों के लोगों और संस्थाओं को जागरूक किया ताकि हिमालय की नदियां स्वच्छ रह सके और दुनिया के कई देशों को सिंचित करती रहे. प्रेस क्लब ऑफ कुल्लू के प्रधान धनेश गौतम ने बताया कि पिछले तीन वर्षों से ग्रीन हिमालय क्लीन हिमालय का अभियान क्लब ने छेड़ रखा है. उन्होंने बताया कि किशन लाल स्वेच्छा से प्रेस क्लब ऑफ कुल्लू के इस अभियान को चलाए हुए हैं. प्रेस क्लब के चेयरमैन राजीव शर्मा ने इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि प्रेस क्लब ऑफ कुल्लू लेखनी के अलावा समाजिक क्षेत्र में भी बेहद सराहनीय कार्य कर रहा है और आगे भी इस तरह के कार्य जारी रहेंगे.