बोपैया रहेंगे प्रोटेम स्पीकर, फ्लोर टेस्ट का सीधा प्रसारण

नई दिल्ली. कर्नाटक विधानसभा मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाया है कि केजी बोपैया प्रोटेम स्पीकर बने रहेंगे और कर्नाटक विधानसभा में शक्ति परीक्षण की पूरी प्रक्रिया की वीडियो रिकॉडिंग और लाइव प्रसारण किया जाएगा. सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को एक अहम फैसला दिया था कि मुख्यमंत्री येदियुरप्पा शनिवार शाम 4 बजे तक विधानसभा में अपना बहुमत साबित करें.

ये भी पढ़ें- कर्नाटक: सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, शाम 4 बजे होगा शक्ति परीक्षण

इस फैसले के बाद राज्यपाल ने बीजेपी विधायक केजी बोपैया को प्रोटेम स्पीकर की शपथ दिलाई थी लेकिन कांग्रेस ने केजी बोपैया के नाम पर आपत्ति जाहिर करते हुए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. कांग्रेस और जेडीएस का तर्क है कि वो वरिष्ठता के आधार पर खरे नहीं उतरते तो उन्हें प्रोटेम स्पीकर क्यों बनाया गया. कर्नाटक में केजी बोपैया को प्रोटेम स्पीकर बनाने के खिलाफ कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में शनिवार की सुबह हई. फौरन सुनवाई की लेकर कांग्रेस शुक्रवार की रात ही अदालत पहुंच गई थी. स्पेशल बेंच करेगी जिसमें जस्टिस एके सीकरी, जस्टिस एसए बोबड़े और जस्टिस अशोक भूषण ने इस केस की सुनवाई की.