लालू यादव ने कोर्ट में किया सरेंडर, भेजे गए जेल

लालू यादव ने कोर्ट में किया सरेंडर, भेजे गए जेल
लालू यादव

रांची. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने गुरुवार को सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एस एस प्रसाद और मार्तण्ड प्रताप मिश्र की अदालत में सरेंडर किया. लालू ने कोर्ट में कहा कि ‘हुजूर हम बीमार हैं मेरा इलाज कराया जाए.’ कोर्ट ने कहा कि लालू को रांची के होटवार स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार भेजा जाए.

इसके बाद जेल प्रशासन की ओर से जेल के डॉक्टर से वहां उनका चेकअप कराया जाए. डॉक्टर की सलाह के बाद जेल प्रशासन निर्णय लेगा कि रिम्स भेजा जाएगा या नहीं. ज्यादा तबीयत खराब होने पर रिम्स के डॉक्टर मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट के डॉक्टर से सलाह लेंगे और लालू का इलाज करेंगे. कोर्ट परिसर में लालू के साथ बहादुरपुर के विधायक भोला प्रसाद यादव और रघुवंश प्रसाद सहित राजद के कई नेता मौजूद थे.

लालू को कोर्ट परिसर से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ खेल गांव स्थित होटवार के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार जेल ले जाया गया. इससे पूर्व स्टेट गेस्ट हाउस में लालू से बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने मुलाकात की.

इस दौरान कई राजनीतिक विषयों पर चर्चा हुई. इसके बाद लालू कोर्ट के लिए रवाना हुए. गौरतलब है कि लालू बुधवार को पटना से हवाई जहाज से रांची पहुंचे थे. इस दौरान उनके साथ भोला यादव और रघुवंश प्रसाद थे. बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से लालू सीधे स्टेट गेस्ट हाउस पहुंचे थे. लालू की पिछले कई दिनों से तबीयत खराब चल रही थी. जिसे लेकर वह औपबंधिक जमानत पर थे. कोर्ट ने उनकी जमानत अवधि बढ़ाने से इनकार करते हुए उन्हें 30 अगस्त तक सीबीआई कोर्ट में सरेंडर करने का आदेश दिया था.

इससे पहले 17 मार्च को लालू प्रसाद यादव बिरसा मुंडा कारागार से इलाज के लिए रिम्स लाए गए थे. इसके बाद उन्हें 28 मार्च को एम्स भेजा गया था. जहां से वो 30 अप्रैल को रिम्स वापस लौटे थे. 10 मई को उनके बेटे की शादी के लिए पैरोल मिला, जिसके बाद 16 मई को हाईकोर्ट से उन्हें इलाज के लिए प्रोविजनल बेल मिला था.