होली के बाद बेहतर इलाज के लिए दिल्ली एम्स शिफ्ट किए जा सकते हैं लालू यादव

कोरोना की चपेट में आने से बचे लालू प्रसाद, सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी निकला कोरोना पॉजिटिव-Panchayat Times

रांची. चारा घोटाले में सजायाफ्ता रिम्स में इलाजरत लालू प्रसाद यादव को बेहतर इलाज के लिए होली के बाद दिल्ली एम्स शिफ्ट किया जा सकता है. इस संबंध में एक मेडिकल बोर्ड का गठन किया जाएगा जो लालू के स्वास्थ्य की जांच करने के बाद निर्णय लेगी. लालू यादव का इलाज कर रहे डॉक्टर उमेश प्रसाद ने उक्त जानकारी दी. उधर, लालू यादव से मुलाकात के लिए शरद यादव, कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा और आरजेडी महासचिव कमरे आलम रिम्स के पेइंग वार्ड पहुंचे हैं. तीनों नेताओं की मुलाकात हो रही है.

लगातार बढ़ रहा लालू यादव का क्रिएटिनिन

लालू यादव का इलाज कर रहे डॉक्टर उमेश प्रसाद ने बताया कि आज लालू यादव के किडनी जांच की रिपोर्ट आई है. लालू स्टेज 3 बी के मरीज हैं. उन्होंने कहा कि मेडिकल टीम की रिपोर्ट को कोर्ट में पेश किया जाएगा जहां कोर्ट से उनके बेहतर इलाज के लिए रिम्स से दिल्ली एम्स भेजे जाने की गुहार लगाई जाएगी.

शत्रुघ्न ने कहा- लालू की सेहत की जानकारी लेने आया हूं

मुलाकात के बाद शत्रुघ्न ने कहा कि लालू यादव की तबीयत के बारे में डॉक्टर बेहतर बता सकते हैं. दोस्त के नाते मिलने आया था. हमारे बीच किसी भी तरह की कोई राजनीतिक बात नहीं हुई है. मैं मीट, ग्रीट और गॉड ब्लेस करने गया था. बिहार की राजनीति के सवाल पर उन्होंने अपने अंदाज में ‘खामोश’ कहा. इससे पहले लालू से मिलने से पहले शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि उनका राजनीति कम पारिवारिक संबंध ज्यादा है. पिछले कुछ दिनों से उनकी सेहत खराब चल रही है. उनकी सेहत की जानकारी लेने के लिए आया हूं. मुलाकात के बाद स्वास्थ्य की जानकारी मिल पाएगी.

उन्होंने कहा कि शरद यादव आज मुलाकात करने आएंगे, इसकी उन्हें जानकारी नहीं थी। उन्होंने कहा कि झारखंड विधानसभा चुनाव के दौरान मैं रांची आया था। उस वक्त लाल यादव से मुलाकात नहीं हो पाई थी। पत्रकारों द्वारा राज्यसभा जाने की इच्छा रखने के सवाल को शत्रुघ्न सिन्हा टाल गए।

बुधवार को तेजस्वी यादव ने लालू से की थी मुलाकात

बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बुधवार काे अपने पिता राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से रिम्स में मुलाकात की थी. उन्हाेंने उनके स्वास्थ्य के प्रति चिंता जाहिर करते हुए कहा कि राेजाना उन्हें लगभग 90 यूनिट इंसुलिन दी जा रही है। उन्होंने मुंबई के डाॅक्टर से इलाज करवाने की बात कही थी.

शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने लालू यादव को जारी किया गया है नोटिस
चारा घोटाले के दोषी राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद को जमानत देने के फैसले के खिलाफ सीबीआई की याचिका पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें नोटिस जारी किया है. चीफ जस्टिस एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली बेंच ने लालू यादव को चार सप्ताह के भीतर जवाब देने काे कहा है.

उल्लेखनीय है कि बिहार के चर्चित 900 करोड़ के चारा घोटाले के मामले में सजा की आधी अवधि खत्म होने के बाद झारखंड हाईकोर्ट ने लालू को जमानत दे दी थी. इस फैसले काे सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. सीबीआई की दलील है कि आधी सजा खत्म होने के आधार पर दोषी को जमानत नहीं दी जा सकती है. यह गंभीर अपराध का मामला है.घोटाले से जुड़े अन्य मामले अभी विचाराधीन हैं. लालू इस समय तीन मामलों में दिसंबर 2017 से रांची की बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं.

पिछले साल 17 मार्च को उनकी तबीयत बिगड़ने पर पहले रिम्स और फिर दिल्ली एम्स में भर्ती किया गया. कोर्ट ने उन्हें 11 मई को इलाज के लिए छह हफ्ते की जमानत मंजूर की थी। इसे बढ़ाकर 14 और फिर 27 अगस्त तक किया.कोर्ट ने इसके बाद 30 अगस्त को लालू को कोर्ट में सरेंडर करने का निर्देश दिया था। इसके बाद से लालू रिम्स में भर्ती हैं.

इन बीमारियों से जूझ रहे हैं लालू

अनियंत्रित डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट की बीमारी, क्रॉनिक किडनी डिजीज (स्टेज थ्री), फैटी लीवर, पेरियेनल इंफेक्शन, हाइपर यूरिसिमिया, किडनी स्टाेन, फैटी हेपेटाइटिस, प्रोस्टेट.