‘मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ नामक पोर्टल लॉन्च

‘प्रदूषण कम करने के लिए हरियाणा की अमेरिका ने की तारीफ-Panchayat Times
मनोहर लाल

हरियाणा. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की ऑनालाइन और सूचना प्रौद्योगिकी के अधिक से अधिक उपयोग करने के उनके डिजिटलाइजेशन विजन को आगे बढ़ाते हुए ,कृषि एवं किसान कल्याण विभाग ने फसलो का ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल पर दर्ज करवाने की सुविधा पहल की है. इसके लिए विभाग ने ‘मेरी फसल-मेरा ब्यौरा’ नामक पोर्टल लॉन्च किया है.

कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने आज इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि खरीफ फसलों का ब्यौरा किसान इस पोर्टल पर 15 सितंबर, 2018 तक ऑनलाइन दर्ज करवा सकते हैं.  उन्होंने बताया कि ऑनलाइन करने का कार्य गांवों में स्थित सामान्य सेवा केंद्रों के वीएलई (वीलेज लेवल इंटरप्रन्योर) करेंगे जिसके लिए उन्हें 5 रुपए प्रति खेवट की दर से भुगतान किया जाएगा.

उन्होंने बताया कि बोई जाने वाली फसलों की जानकारी प्राप्त करने और विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ पात्र किसानों को देने के लिए प्रदेश सरकार ने राज्य स्तरीय फसल ई-सूचना नामक वैब पोर्टल लॉन्च किया है. यह पोर्टल 15 सितंबर,2018 तक खुला रहेगा. इस अवधि के दौरान गांवों में कार्यरत वीएलई सभी किसानों की फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवाएंगे. जिसके लिए किसानों को कोई भुगतान नहीं करना है. वीएलई को इस कार्य के लिए प्रदेश सरकार की ओर से सीधे उसके खाते में भुगतान किया जाएगा.

उन्होंने बताया कि वीएलई के अलावा किसान अपने स्तर पर खुद इंटरनेट के माध्यम से ईदिशा डॉट जीओवी डॉट इन पर इस पोर्टल को खोलकर भी अपनी फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन दर्ज करवा सकता है. इस पोर्टल पर आने वाली सूचनाओं को कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के साथ सांझा किया जाएगा. किसानों की ओर से अपलोड की जाने वाली सूचना किसी अन्य कानूनी क्लेम में प्रयोग नहीं की जा सकेगी. इसके अलावा जमाबंदी संबंधी डाटा भी पटवारियों की ओर से सांझा किया जाएगा. इससे किसानों की फसलों की खरीद प्रक्रिया आसान हो जाएगी. उन्होंने बताया कि वीएलई को इस योजना की जानकारी और प्रशिक्षण देने के लिए विशेष कार्यशालाएं आयोजित की जा रही हैं.