श्री बालाजी अस्पताल का हुआ शुभारंभ

कांगडा. श्री बालाजी अस्पताल कांगड़ा के नए गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) का बुधवार को शुभारंभ हुआ. अस्पताल के एमडी डॉ. राजेश शर्माने कहा कि बदलते वक्त के साथ आधुनिकीकरण की दिशा में यह कदम उठाया गया है. इस अवसर पर देश-विदेश में अपनी सेवाएं दे चुके डॉ. राज मल्हौत्रा ने भी आईसीयू के बारे में विस्तार से जानकारी दी.

यह आईसीयू डॉ. राज मल्हौत्रा की देखरेख में ही काम करेगा, उन्होंने हाल ही में अस्पताल में अपनी सेवाएं देना शुरू की हैं. मल्हौत्रा ने बताया कि आईसीयू जिसे इनटेंसिव केयर यूनिट या गहन उपचार इकाई (आईटीयू) या गंभीर देखभाल इकाई (सीसीयू) के रूप में भी जाना जाता है, जोकि अस्पताल का एक विशेष विभाग है जो गहन चिकित्सा प्रदान करता है. मल्टी स्पेशिल्टी अस्पताल के तौर पर सेवाएं प्रदान कर रहे श्री बालाजी अस्पताल कांगड़ा में आईसीयू तो पहले से ही काम कर रहा था पर अब एक नया आईसीयू बेहद आधुनिक उपकरणों सहित तैयार किया गया है. आईसीयू में गंभीर बीमारियों और चोटों वाले रोगियों को लाया जाता है.

डॉ. राज मल्हौत्रा दिल्ली, रोहतक व लुधियाना के अलावा वर्ष 1981 से 1994 तक विदेश में भी अपनी सेवाएं प्रदान कर चुके हैं. डॉ. राज मल्हौत्रा लिबिया के बेंगाजी स्थित मेडिकल यूनिवर्सिटी में बतौर प्रोफेसर अपनी सेवाएं देते रहे है. उन्होंने कहा है कि यहां आकर लगता है कि करने के लिए बहुत कुछ है.

इस अवसर पर डॉ राजेश ने कहा कि हमारा निरंतर प्रयास रहा है कि क्षेत्र और प्रदेश की सेवा करते हुए किसी बात की कमी न रहे. उन्होंने कहा कि हमने इससे पहले भी वक्त-वक्त पर अस्पताल में आधुनिक सेवाएं देने की दिशा में कदम बढ़ाए हैं.