जानें, अटल पेंशन योजना के फायदे

क्या आप जानते हैं अटल योजना आपके लिए कितनी फायदेमंद है?-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

रांची. अटल पेंशन योजना केंद्र सरकार की ओर से शुरू की योजना है. इसका लक्ष्य असंगठित क्षेत्र के लोगों को पेंशन देना है. इस योजना में भाग लेने के लिए आपका बैंक खाता होना जरूरी है. इसके साथ ही इस योजना के लिए आपका बैंक खाता आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए. अटल पेंशन योजना का लाभ उन्हीं लोगों को मिल सकता है जो इनकम टैक्स स्लैब से बाहर हैं. साथ ही, ईपीएफ और ईपीएस योजना का लाभ पहले से नहीं ले रहे हैं.

इस योजना की शुरुआत 4 मई 2015 को पीएम नरेंद्र मोदी कोलकाता से किया था. अटल पेंशन योजना के तहत 60 वर्ष की आयु होने पर पांच गारंटीकृत पेंशन स्लैब 1000 रुपए, 2000 रुपए, 3000 रुपए, 4000 और 5000 रुपए ग्राहकों के लिए उपलब्ध कराए गए हैं. बाता दें कि वित्तीय वर्ष 2018-19 के दौरान 31 जनवरी 2019 तक लगभग 45 लाख अटल पेंशन योजना खातों को जोड़ा गया है.

ये लोग उठा सकते हैं अटल पेंशन योजना का लाभ

मोदी सरकार की ओर से शुरू की गई अटल पेंशन योजना समाज के कमजोर वर्ग के लिए है ताकि 60 साल के बाद उन्‍हें आर्थिक परेशानियों का सामना न करना पड़े. यही वजह है कि इस योजना से 18 से 40 साल तक की उम्र के वैसे सभी लोग जुड़ सकते हैं, जो इसके वास्तविक पात्र हैं. क्योंकि इस योजना में कम से कम 20 साल का निवेश करना जरूरी है.

अटल पेंशन योजना के फायदे

इस योजना के तहत जमा राशि पर आईटी की सेक्शन 80CCD के तहत टैक्स छूट का लाभ भी मिलता है. एक सदस्य के नाम से सिर्फ 1 ही अकाउंट खुलवा सकता है. अटल पेशन योजना के तहत कई बैंक आपको खाता खोलने की सुविधा दे रहे हैं.

जहां तक अन्य फायदों की बात करें तो शुरू के 5 साल सरकार की ओर से भी योगदान राशि दी जाती है. वहीं अगर 60 साल के पहले या बाद में खाताधारक की मौत हो जाती है, तो पेंशन की राशि उसकी पत्नी को मिलेगी. अगर दोनों की मौत हो जाती है तो सरकार नॉमिनी को पेंशन देगी.