वाम दलों की ओर से राजभवन मार्च 14 सितंबर को

वाम दलों की ओर से राजभवन मार्च 14 सितंबर को-Panchayat Times

रांची. आज अल्बर्ट एक्का चौक स्थित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी. कार्यालय में भाकपा माले के राज्य सचिव जनार्दन प्रसाद की अध्यक्षता में वामदलो कि बैठक हुई, जिसमें मुख्य रूप से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव व पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता, सीपीआईएम के राज्य सचिव मंडल के सदस्य सुजीत सिन्हा ,मासस के नेता सुसांतो मुखर्जी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के सहायक राज्य सचिव महेन्द्र पाठक, इँदर मणी देबी, अजय कुमार सिंह, लोकेश आनंद, आदी बैठक मे मौजूद थे.

वाम दलों की ओर से राजभवन मार्च 14 सितंबर को-Panchayat Times

बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता ने पत्रकारों से कहा की, राज्य में बदतर विधि व्यवस्था कायम है. झारखंड में सुखाड़ की स्थिति है, परंतु सरकार को किसानों से कोई लेना-देना नहीं है. इसलिए झारखंड को सुखाड़ क्षेत्र घोषित करो , बिगड़ती हुई विधि व्यवस्था में सुधार करो, गैरमजरूआ जमीन की रसीद अभिलंब चालू करो, जबरिया भूमि अधिग्रहण बंद करो, नया ट्रैफिक रूल वापस लो, तबरेज अंसारी की हत्या की न्यायिक जांच कराओ, आदि कई मांगों के समर्थन में 14 सितंबर को वामदलो की ओर से राजभवन मार्च करने का निर्णय लिया गया है. भाकपा माले के राज्य सचिव जनार्दन प्रसाद ने कहा की सरकार लगातार जनता को बेवकूफ बना रही है. सरकार किसानों को धोखा दे रही हैं,  जिस तरह से रामगढ़ के आईपीएल गोली कांड में पुलिस की गोली से मरने वालों को पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सांप से काटा गया बताया गया था,  उसी तरह से तबरेज अंसारी की हत्या मॉब लिंचिंग से की गई. और उसे बाद में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हार्ट अटैक बता कर, उसके एफआईआर में से 302 हटा दिया गया.

सरकार लगातार जनप्रतिनिधियों को बदले की भावना से एक राजनीतिक साजिश के तहत प्रताड़ित कर रही है. और उन्हें परेशान कर जेल भेज रही है. सरकार के विरोध करने वाले को लगातार सरकार परेशान कर रही है. आंदोलनकारियों पर किये गये मुकदमो को वापस लेने की मांग कि. सीपीआईएम के कामरेड सुरजीत सिन्हा ने कहा कि झारखंड में सारे संपदा के बावजूद किसान आत्महत्या कर रहे हैं. और सरकार को इसकी कोई चिता नहीं है. इन सभी मांगों के समर्थन में दिनांक 14 सितंबर को भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी माले भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी मार्क्सवादी कॉर्डिनेशन कमिटी के बैनर तले सभी जिलों में प्रदर्शन की तैयारी की जा रही है. उक्त तिथि को शहीद चौक से जुलूस निकालकर राजभवन जाकर मांग पत्र राज्यपाल महोदय को सौपी जाएगी.