दो स्कूलों के पास खोला गया शराब ठेका, महिलाओं ने विरोध किया शुरू

दो स्कूलों के पास खोला गया शराब ठेका, महिलाओं ने विरोध किया शुरू
दो स्कूलों के पास खोला गया शराब ठेका, महिलाओं ने विरोध किया शुरू

सोलन. धर्जा गांव में खुले ठेके का महिलाएं लगातार विरोध कर रही हैं. यह ठेका कई बार सुर्ख़ियों में रह चुका है. हैरानी वाली बात यह है कि ठेका खुलने के बाद कई बार बंद भी हो चुका है. जिसके बावजूद एक बार फिर से ठेका खुल गया है. जिससे यह प्रतीत होता है कि पंचायत के चुने हुए प्रतिनिधि ठेका चालकों को संरक्षण दे रहे है. जिनकी शह पर ठेका बार बार खोला जा रहा है.

महिलाओं ने ठेके के विरोध को लकेर आज एडीएम सोलन विवेक चंदेल को ज्ञापन सौंपा और ठेके को बंद करने की मांग भी की. वहीं, एडीएम सोलन विवेक चंदेल ने महिलाओं को आश्वासन दिया कि जल्द ही इस मामले की जांच की जाएगी. अगर ठेका नियमों को ताक पर रख कर खोला गया है तो उसे जल्द बंद करवाया जाएगा.

अधिक जानकारी देते हुए महिला मंडल की पूर्व प्रधान शकुंतला राणा ने रोष प्रकट करते हुए कहा कि जिस जगह शराब की ठेका खोला गया है. वहां दो स्कूल है और एक वेटनरी फार्मासिस्ट का शिक्षण संस्थान है. उन्होंने बताया कि जहां ठेका खुलवाया गया है. वहां पानी का स्त्रोत है जहां से लोग पानी लेने जाते है. अगर यह ठेका वहां रहता है तो जहां एक और इसका गलत प्रभाव विद्यार्थियों पर पड़ेगा. वहीं, आने जाने वाली महिलाएं भी इस से परेशान होंगी. उन्होंने कहा कि यह ठेका दो बार बंद हो चुका है. लेकिन, उसके बावजूद यह तीसरी बार फिर से खोल दिया गया है जो सरासर गलत है अगर यह ठेका यहीं रहता है तो गांव की महिलाएं इस का जम कर विरोध करेंगी.