सांसद अनुराग ठाकुर ने धर्मपुर में सांसद ‘मोबाइल स्वास्थ्य सेवा’ की शुरुआत की

धर्मपुर (मंडी). हमीरपुर सांसद अनुराग ठाकुर ने मंडी जिला के धर्मपुर में भी सांसद मोबाइल स्वास्थ सेवा (एसएमएस) के अस्पताल की शुरुआत की. अनुराग ठाकुर देश के पहले ऐसे सांसद हैं जो इस तरह की सुविधा को लोगों के घर द्वार पर उपलब्ध करा रहे रहे हैं.

हमीरपुर संसदीय क्षेत्र की जनता को बेहतर स्वास्थ सुविधा मुहैया कराने के लिए हाल ही में शुरू की गई. उनकी मुहिम “सांसद मोबाइल स्वास्थ सेवा”लगातार लोगों के बीच पहुंच कर उन्हें बेहतर स्वास्थ सुविधाऐं उपलब्ध करा रही है. धर्मपुर में इस सेवा ने अपने शुरुआत के पहले ही दिन 150 मरीज़ों का इलाज किया.

अनुराग ठाकुर ने कहा”बेहतर स्वास्थ सुविधा प्रत्येक नागरिक की बुनियादी ज़रूरत है,मगर कई बार स्वास्थ केंद्रों के दूर होने या डॉक्टरों की उपलब्धता ना होने से दूर दराज़ इलाक़ों के लोग अच्छी स्वास्थ सेवा से वंचित रह जाते हैं. आम जनमानस की इस समस्या को ध्यान में रखते हुए अपने संसदीय क्षेत्र के लिए मैंने अस्पताल नाम से एक मुहिम की शुरुआत की है. जिसमें एक वैन को आधुनिक चिकित्सीय सुविधा से परिपूर्ण एक मोबाइल मेडिकल यूनिट में बदला गया है. इस चलते फिरते अस्पताल में 40 से भी ज़्यादा टेस्ट,ब्रेस्ट कैंसर की प्रारम्भिक जांच और दवाइयां मुफ्त उपलब्ध हैं.

इस योजना का मकसद उन लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाना है, जिनकी पहुंच से अस्पताल अभी तक दूर है. इस मोबाइल मेडिकल यूनिट से ना सिर्फ कई रोगों की जांच होगी. बल्कि जांच के बाद रोगी को उसके विशेषज्ञ डॉक्टर से कनेक्ट भी करवाया जाएगा. इस मोबाइल मेडिकल यूनिट में जिन टेस्टों की जांच होगी. उनकी सरकारी जांच की क़ीमत लगभग 900 रुपए और प्राइवेट जांच लगभग 5000 रुपए के आस पास बैठती है. इसके अलावा ये मोबाइल मेडिकल यूनिट की सुविधा लोगों के द्वार पर मौजूद होगी. जिससे उनके अस्पताल और जांच सेंटर तक पहुंचने वाले खर्चे की बचत होगी. इस चलते फिरते अस्पताल का सबसे ज़्यादा फ़ायदा दिहाड़ी मज़दूरों,दलितों,बुज़ुर्गों,महिलाओं और ग़रीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को मिलेगा”

आगे बोलते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा”ये मोबाइल मेडिकल यूनिट एमबीबीएस डॉक्टर,बीएमएस फॉर्मसिस्ट
एएनसी, लैब टेक्निशियन और ड्राइवर की सुविधा से परिपूर्ण है।लैब टेक्निशियन क्षेत्र में जाकर कार्य करनेके लिए पूरी तरह प्रशिक्षित है. इसमें महिलाओं के जांच और इलाज के लिए विशेष प्रबंध है. इस मोबाइल मेडिकल वैन में किए जाने वाले सारे टेस्ट प्रभावी और उच्चगुणवत्ता वाले हैं.  इसमें टीबी और कैंसर जैसे गम्भीर बीमारियों की जांच भी संभव है.

गम्भीर बीमारियों का पता लगते ही मरीज को पीजीआई जैसे उच्च चिकित्सा सुविधा युक्त संस्थानों में सम्बंधित रोग के अच्छे डाक्टरों से कनेक्ट कराया जाएगा. हमीरपुर में ये अस्पताल सेवा अब तक 4500 मरीज़ों का इलाज कर चुकी है. अब धर्मपुर में पहले ही दिन 150 लोगों ने इस स्वास्थ सेवा का लाभ उठाया है. जल्द ही ये अस्पताल सेवा पूरे हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के सभी विधानसभा क्षेत्रों में अपनी सेवाएं देना शुरू कर देगी.