”श्री मणिमहेश यात्रा के लिए नहीं होगी हेली टैक्सी की ऑनलाइन टिकट की बुकिंग”

''श्री मणिमहेश यात्रा के लिए नहीं होगी हेली टैक्सी की ऑनलाइन टिकट की बुकिंग'' -Panchayat
साभार इंटरनेट

चंबा. जनजातीय क्षेत्र भरमौर उपमंडल में 24 अगस्त से 6 सितंबर तक चलने वाली श्री मणिमहेश यात्रा के पुख्ता प्रबंधों को लेकर उपायुक्त चंबा विवेक भाटिया की अध्यक्षता में मिनी सचिवालय सभागार भवन में बैठक आयोजित की गई. इस बैठक में श्री मणिमहेश ट्रस्ट के सरकारी व गैर सरकारी सदस्यों ने भाग लिया.

उपायुक्त भाटिया ने कहा कि इस मर्तबा हेली टैक्सी की ऑनलाइन बुकिंग पर प्रतिबंध रहेगा. पहले आओ पहले पाओ की तर्ज पर टिकट मिलेगी. इस दौरान एक सेक्टर अधिकारी को टिकटों की सुविधा व रॉयल्टी पर कड़ी निगरानी के लिए तैनात किया जाएगा. अगर टिकटों के ब्लैक होने का मामला उजागर होता है तो हेली टैक्सी कंपनी को ब्लैक लिस्ट घोषित कर दिया जाएगा और उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी. उन्होंने चंबा से भी हवाई उड़ान करवाने की बात कही.

आखिर 7 सालों के बाद शुरू हुई शाट सब्जी मंडी

यह यात्रा 13 सेक्टरों के माध्यम से आयोजित की जाएगी. यह 13 सेक्टर श्री मणिमहेश यात्रा के मानचित्र पर पर अंकित रहेंगे ताकि यात्रियों को किसी प्रकार की असुविधा न हो. इस यात्रा में एक सौ के करीब अधिकारी और कर्मचारी अपनी सेवाएं देंगे. यात्रा के दौरान 80 के करीब विभिन्न स्थलों पर लंगर की व्यवस्था रहेग.

बैठक में उपायुक्त चंबा विवेक भटिया ने एडीएम भरमौर को निर्देश दिए कि लंगर आयोजकों से शपथ पत्र लिया जाए कि इस मर्तबा स्टील के बर्तन ही लंगर में उपयोग किया जाए ताकि इस धार्मिक स्थल में प्रदूषण को कम किया जा सके. उपयुक्त चंबा ने कहा कि भरमाणी माता जल स्त्रोत के आस-पास नो लंगर जॉन रहेगा. वह चाय ढाबे खाने पीने की व्यवस्था पर भी रोक रहेगी ताकि मंदिर की पवित्रता कायम रह सके. उपायुक्त चंबा ने लोक निर्माण विभाग को भरमाणी माता परिसर में मॉडल शौचालय बनाने के लिए निर्देश दिए.

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि ट्रस्ट के सभी मंदिरों के गर्भ गृह में दान पात्र स्थापित किए जाएंगे ताकि ट्रस की आमदनी को बढ़ाया जा सके. राधा अष्टमी के दिन डल झील पर चढ़ावे की धनराशि के आवंटन के मुद्दे पर उपायुक्त ने कहा कि राजस्व रिकॉर्ड के अनुसार धनराशि का आवंटन निर्धारित किया जाएगा.