मुख्यमंत्री ने सेफ मैराथन ‘रन फॉर रोड’ सेफ्टी को दिखाई हरी झंडी

मनोहर लाल ने सेफ मैराथन 'रन फॉर रोड' सेफ्टी को दिखाई हरी झंडी-Panchayat Times
साभार : सीएमो हरियाणा के फेसबुक पेज से

यमुनानगर. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं में बढ़ रही मृत्युदर चिंता का विषय है. युवाओं को इसके प्रति जागरूक होना होगा, क्योंकि युवाओं के कंधों पर ही देश का भविष्य टिका हुआ है. सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए समाज के हर व्यक्ति को आगे आना होगा. यह उनका कर्तव्य है. समाज और जनप्रतिनिधियों का दायित्व बनता है कि वे युवाओं को सेफ ड्राइव के लिए जागरुक करें. मुख्यमंत्री शुक्रवार सुबह ड्राइव सेफ मैराथन ‘रन फॉर रोड’ सेफ्टी को हरी झंडी दिखाने से पहले युवाओं को संबोधित कर रहे थे.

मुख्यमंत्री ने युवाओं को यातायात नियमों का पालन करने एवं सेफ ड्राइव करने की शपथ भी दिलाई. इसके बाद रक्षक विहार जगाधरी से ड्राइव सेफ मैराथन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे आयोजनों से न केवल समाज में जागरूकता आएगी, बल्कि आमजन यातायात नियमों के प्रति भी जागरुक होंगे. सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति की जान बचाना सबसे बड़ा नैतिक कार्य है. इस कार्य से किसी को पीछे नहीं हटना चाहिए.

हरियाणा में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का असर

दुर्घटना के 10-15 मिनट के भीतर यदि घायल व्यक्ति को चिकित्सा सहायता मिल जाए तो उसकी जिंदगी को बचाया जा सकता है. मुख्यमंत्री ने कहा कि घायल की सहायता करते समय पुलिस कार्रवाई से न डरें, क्योंकि सर्वोच्च न्यायालय की ओर से भी गाइडलाइन जारी की गई है कि घायल व्यक्ति का तुरंत इलाज किया जाए, बाद में अन्य कार्रवाई होगी.

युवाओं को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने के लिए पुलिस की ओर से स्कूलों में जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है, लेकिन जब तक आमजन में जागरूकता नहीं आएगी तब तक सड़क दुर्घटनाओं में कमी नहीं आएगी. इसलिए आमजन को यातायात नियमों के प्रति जागरूकता के साथ सेफ ड्राइव को लेकर जागरूक होना बहुत जरूरी है. ड्राइव सेफ मैराथन में युवाओं ने पूरे उत्साह के साथ हिस्सा लिया.