हिमाचल: पांच जिलों में पारा शून्य से नीचे, केलंग सबसे ठंडा

हिमाचल: पांच जिलों में पारा शून्य से नीचे, केलंग सबसे ठंडा - Panchayat Times

शिमला. प्रदेश में मार्च में भी दिसंबर महीने की तरह खून जमा देने वाली ठंड पड़ रही है. आलम यह है कि शिमला सहित राज्य के पांच जिलों के आधा दर्जन शहरों का पारा शून्य से नीचे पहुंच गया है.

मौसम विभाग ने 10 मार्च से पहाड़ी इलाकों में फिर से बर्फबारी का अनुमान जताया है. ऐसे में ठंड से राहत मिलने की अभी कोई संभावना नहीं है. विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक लाहौल-स्पीति, किन्नौर, शिमला, कुल्लू और चंबा जिलों में न्यूनतम तापमान माइनस में दर्ज किया गया है.

लाहौल-स्पीति का मुख्यालय केलंग सबसे ठंडा

लाहौल-स्पीति का मुख्यालय केलंग सबसे ठंडा रहा, जहां पारा -4.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ. -2.2 डिग्री के साथ किन्नौर का कल्पा दूसरा ठंडा स्थल रहा. शिमला के कुफरी व मशोबरा में न्यूनतम तापमान क्रमशः -1. 6 व -1.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ. जबकि कुल्लू के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल मनाली में -1.4 डिग्री और चंबा के डलहौजी में -0.2 डिग्री सेल्सियस रहा. 

इसके अलावा चायल में 1.8, शिमला में 2.7, सियोबाग में 3.2, भुंतर में 4.5, धर्मशाला में 5.8, पालमपुर व सोलन में 6, जुब्बड़हट्टी में 6.4, चंबा में 6.5, सुंदरनगर में 7.4, मंडी में 7.9, ऊना व कांगड़ा में 8.4, हमीरपुर में 9.4 और बिलासपुर व पांवटा साहिब में 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. 

बीते 24 घण्टों के दौरान डलहौजी में 15, कल्पा में 9 और मनाली व शिमला में 2 सेंटीमीटर हुई बर्फबारी

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि राज्य के अधिकांश इलाकों में रविवार को धूप निकलने से मौसम साफ बना हुआ है. उन्होंने अगले 24 घण्टों के दौरान भी मौसम के साफ रहने की संभावना व्यक्त की है. 10 से 13 मार्च तक राज्य में बारिश व बर्फबारीका अनुमान है.