मुंबई की तर्ज पर रंग-बिरंगी होंगी स्मार्ट सिटी की स्लम बस्तियां

मुंबई की तर्ज पर रंग-बिरंगी होंगी स्मार्ट सिटी की स्लम बस्तियां-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

फरीदाबाद. हरियाणा सरकार स्मार्ट सिटी की स्लम बस्तियां को मुंबई की स्लम वस्तियों की तरह विभिन्न रंगों में रंगने की योजना बना रही है. अनुमान है कि जल्द ही इस योजना को अमलीजामा पहना दिया जाएगा. यह जानकारी देते हुए प्रदेश के उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने बताया कि इस योजना को धरातल पर लाने में सामाजिक संस्थाएं और स्लम बस्तियों के लोगों को जिम्मेवारी दी जाएगी.

मुंबई की तर्ज पर रंग-बिरंगी होंगी स्मार्ट सिटी की स्लम बस्तियां-Panchayat Times
साभार इंटरनेट : विपुल गोयल

गोयल ने बताया कि जिस प्रकार मुंबई की स्लम बस्तियां रंग-बिरंगे रंगों से रंगी होती हैं, उसी प्रकार से फरीदाबाद की स्लम बस्तियों को भी रंग-बिंरगे रंगों से रंगने पर विचार चल रहा है, जिसके जल्द ही शुरू होने की उम्मीद है. बहुरंगी स्लम बस्तियां न केवल साफ-सुथरी बल्कि आकर्षक का केंद्र भी होंगी. सफाई व्यवस्था को लेकर भी स्लम बस्तियों में रहने वाले लोगों को जागरुक किया जाएगा. योजना को प्रभावशाली बनाने के लिए सामाजिक संस्थाओं और स्लम बस्तियों के लोगों की भागीदारी तय की जाएगी.

मुंबई की तर्ज पर रंग-बिरंगी होंगी स्मार्ट सिटी की स्लम बस्तियां-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

हरियाणा की गायों को मिलेगा जेलों में आशियाना

गौरतलब है कि फरीदाबाद में अनेक ऐसे क्षेत्र हैं, जहां स्लम बस्तियां विशाल रूप ले चुकी हैं. ये स्लम बस्तियां अव्यवस्थित तरीके से बसी होने के कारण शहर की सुंदरता पर एक धब्बे के रूप में नजर आती हैं. इन बस्तियों को हटा कर मल्टीलेवल पार्किंग और मल्टीलेवल फ्लैट्स बनाने की योजनाएं पीपी स्कीम के तहत कई बार बनाई गई,  उसकों ठीक से अमलीजामा नहीं पहनाया जा सका. इन योजना के तहत झुग्गी-बस्ती के पूरे क्षेत्र को किसी निजी कालोनाइजर को देने का प्रस्ताव था, जिसमें पीपी स्कीम के तहत वह कालोनाइजर स्लम बस्ती में रहने वाले लोगों को कम दाम पर फ्लैट उपलब्ध करवाना और शेष बची हुई जमीन का व्यावसायिक इस्तेमाल करना था.