नरेश अग्रवाल ने जया बच्चन पर दिए बयान पर जताया खेद

नई दिल्ली. सोमवार को बीजेपी में शामिल हुए नरेश अग्रवाल ने जया बच्चन पर दिए बयान पर खेद प्रकट किया है. उन्होंने कहा कि अगर मेरे बयान से किसी को ठेस पहुंची है तो मैं खेद व्यक्त करता हूं. इस दौरान जब एक पत्रकार ने उनसे पूछा कि क्या आप अपने बयान पर माफी मागेंगे, तो उन्होंने कहा कि खेद का मतलब समझते हैं आप.

सोमवार को समाजवादी पार्टी छोड़कर नरेश अग्रवाल बीजेपी में शामिल हो गए थे. समाजवादी पार्टी की ओर से राज्यसभा का टिकट जया बच्चन को दिए जाने के बाद उन्होंने विवादित बयान दिया था. नरेश अग्रवाल ने कहा था कि सपा में फिल्म में काम करने वाली से मेरी हैसियत तय कर दी गई. उनके नाम पर हमारा टिकट काट दिया गया, इसको मैं उचित नहीं समझता.

नरेश अग्रवाल ने सपा छोड़ बीजेपी का दामन थामा

दरअसल समाजवादी पार्टी के छह राज्यसभा सांसद रिटायर हो रहे हैं. किरणमय नंदा, दर्शन सिंह यादव, नरेश अग्रवाल, जया बच्चन, मुनव्वर सलीम और आलोक तिवारी के नाम इस लिस्ट में हैं. सपा के पास सिर्फ 47 वोट हैं, अखिलेश यादव सिर्फ एक नेता को ही संसद भेज सकते हैं. बाकी के 9 अतिरिक्त वोट पार्टी गठबंधन के तहत बीएसपी उम्मीदवार को देगी.

बीजेपी ने बयान से किया किनारा

विदेश मंत्री और बीजेपी की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज ने उनके ब्यान पर ऐतराज जताया. सुषमा ने ट्वीट करते हुए नरेश अग्रवाल का बीजेपी में स्वागत किया, लेकिन उन्होंने जया बच्चन पर की गई उनकी टिप्पणी को अस्वीकार्य और गलत बताया है. सुषमा स्वराज के बाद स्मृति ईरानी और रूपा गांगुली ने भी नरेश अग्रवाल के बयान पर विरोध दर्ज कराया है.

 

अखिलेश ने साधा निशान

नरेश अग्रवाल की ओर से जया बच्चन पर की गई टिप्पणी पर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने निंदा की. अखिलेश ने ट्वीट कर कहा कि ये फिल्म जगत के साथ भारत की हर महिला का अपमान है.