पाकिस्तान के पंजाब में भी अपनापन लगता है : नवजोत सिंह सिद्धू

कसौली में चल रहे सातवें लिट फेस्ट में पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह - Panchayat Times
साभार-Facebook

सोलन. कसौली में चल रहे सातवें लिट फेस्ट में पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का फिर से पाकिस्तान के प्रति प्यार झलकता नजर आया. उन्होंने न केवल पाकिस्तान की तारीफ़ में कसीदे पढ़े बल्कि दक्षिण भारत की संस्कृति और वहां की भाषा पर भी टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि जब “मैं दक्षिण भारत जाते है तो वहां पर बातचीत करने के लिए इंग्लिश आना जरूरी है उसके बगैर आप बात नहीं कर सकते. वहां की संस्कृति बिलकुल अलग है वहां का खाना आप ज्यादा समय के लिए नहीं खा सकते लेकिन पाकिस्तानी पंजाब में वह अपनापन महसूस करते हैं. वहां की भाषा पंजाब की तरह है और वहां जा कर उन्हें अच्छा लगता है.”

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान में क्यों चर्चे में हैं नवजोत सिंह सिद्धू

सिद्धू ने ये भी खुलासा किया कि वह पाकिस्तान एक बार नहीं बल्कि पांच से छह बार गए हैं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के आर्मी चीफ ने जब ये कहा कि करतार पुर कोरी  डोर के बारे में खोलने को तैयार हैं तो उन्होंने उन्हें खुशी में अपनी बाहों में भर लिया था और उनके पास अपनी खुशी जाहिर करने के लिए और कोई रास्ता नहीं था. आज पाकिस्तान बंट चुका है पंजाब का मतलब पांच दरियाओं से बना था लेकिन बंटवारे के बाद अब भारत में दो ही दरिया रह गए है इस लिए बंटवारे से पंजाब को कुछ नहीं मिला बल्कि भारी नुक्सान हुआ है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और भारत में सौहार्द पैदा करने के लिए चाहे जान भी चली जाए वह देनें को तैयार हैं.