इस स्कूल में शिक्षक और गैर शिक्षकों के 8 पद खाली

धर्मपुर (मंडी). उपमंडल धर्मपुर के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला हियुन पैहड में शिक्षक और गैर शिक्षकों के करीब 8 पद खाली चल रहे हैं. ऐसी परिस्थिति में प्रश्न यह उठता है कि स्कूल में बिना अध्यापकों के बच्चे कैसे पढ़ाई करते होंगे और अगर करते है तो पढ़ाता कौन होगा.

गौरतबल है कि हियुन पेहड पंचायत क्षेत्र की बहुत बड़ी पंचायत है और इस पंचायत के स्कुल में भाषा अध्यापक का पद करीब अगस्त 2007 से खाली चल रहा है. 11 सालों से बच्चे बिना भाषा अध्यापक के ही मातृभाषा हिंदी की पढ़ाई कर रहे हैं. वहीं पर दूसरी तरफ बायोलॉजी के प्रध्यापक का एक पद, कमर्स के प्राध्यापक के दो पद उनमें से एक करीब दो वर्षों से खाली चल रहा है, टीजीटी आर्ट्स का एक पद भी पिछले दो वर्षों से ,राजनीती शास्त्र के प्राध्यापक का एक पद और शास्त्री का एक पद रिक्त पड़ा हुआ है.

इसके साथ ही स्कुल में गैरशिक्षक कर्मचारियों में वरिष्ठ सहायक,क्लर्क और लाइब्रेरियन का पद भी खाली ही है. स्कूल प्रबन्धन समिति के पूर्व अध्यक्ष और कांग्रेस पार्टी के नेता रमेश ठाकुर ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर 15 दिनों के अंदर सरकार पेहड स्कुल और पंचायत के अन्य स्कूलों में रिक्त पदों को नहीं भरती है तो लोगों को साथ लेकर एसडीएम ऑफिस धर्मपुर में धरना प्रदर्शन किया जाएगा. फिर भी अगर सरकार नहीं मानती तो भूख हड़ताल शुरू की जाएगी.

स्कूल प्रबन्धन समिति के पूर्व अध्यक्ष और कांग्रेस पार्टी के नेता रमेश ठाकुर ने मीडिया को जारी बयान में सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर 15 दिनों के अंदर सरकार पेहड स्कूल और पंचायत के अन्य स्कूलों में रिक्त पदों को नहीं भरती है तो, लोगों को साथ लेकर एसडीएम ऑफिस धर्मपुर में धरना प्रदर्शन किया जाएगा. फिर भी अगर सरकार नहीं मानती तो भूख हड़ताल शुरु की जाएगी.

इस बारे में जब उपनिदेशक उच्च शिक्षा मण्डी अशोक शर्मा से बात की गयी तो उन्होंने कहा कि स्कूल में रिक्त पदों का मामला उच्चाधिकारियों के ध्यान में ला दिया गया है. शीघ्र ही इन पदों पर अध्यापकों की नियुक्ति कर दी जाएगी.