गांव-पंचायतों में रहने वाले छात्रों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत, बड़ी संख्या में गरीब छात्रों के पास स्मार्ट फोन भी उपलब्ध नहीं : राज्यपाल

दूर गांव-पंचायतों में रहने वाले छात्रों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत, बड़ी संख्या में गरीब छात्रों के पास स्मार्ट फोन भी उपलब्ध नहीं : राज्यपाल - Panchayat Times
Draupadi Murmu

रांची. झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा है कि लॉकडाउन में उच्च शिक्षा हासिल करने वाले विद्यार्थियों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि सुदूरवर्ती क्षेत्रों में रहने वाले कई विद्यार्थियों के पास इंटरनेट की सुविधा नहीं है, वहीं बड़ी संख्या में गरीब छात्र-छात्राओं के पास स्मार्ट फोन भी उपलब्ध नहीं है, ऐसे बच्चों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है.

ई-लर्निंग माध्यम बड़ी भूमिका निभा रहा है

राज्यपाल शुक्रवार को राजभवन से सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों के साथ वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि मौजूदा परिस्थितियों में विद्यार्थियों के लिए ई-लर्निंग माध्यम बड़ी भूमिका निभा रहा है, लेकिन रिमोट एरिया, जहां इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध नहीं है, उन्हें लॉकडाउन में कैसे बेहतर तरीके से उच्च शिक्षा मिले, इसके लिए यूनिवर्सिटी को विशेष ध्यान देने की जरूरत है.

राज्यपाल ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमणकाल के कारण लागू देशव्यापी लॉकडाउन में शैक्षणिक सत्र समय पर नहीं शुरू हो पाये है, वहीं वर्तमान परिस्थितियों को लेकर यूजीसी की ओर से भी कई दिशा-निर्देश जारी किये गये है.

इसे लेकर सभी यूनिवर्सिटी को आवश्यक तैयारियां करनी चाहिए, ताकि छात्र-छात्राओं का भविष्य बेहतर हो सके. इस बैठक में 13 विषयों पर चर्चा की गयी. विभिन्न यूनिवर्सिटी के कुलपतियों की ओर से राज्यपाल सह कुलाधिपति को अपनी तैयारियों के बारे में जानकारी दी गयी.