लोहरदगा : हिंसक झड़प में घायल नीरज राम की रिम्स में मौत

रांची. झारखंड के लोहरदगा जिले में हुई हिंसक झड़प में घायल नीरज राम प्रजापति की सोमवार को रिम्स में मौत हो गई. प्रजापति लोहरदगा के अपर बाजार के रहने वाले थे. उनका इलाज रिम्स के ट्रामा सेंटर में चल रहा था.

ट्रामा सेंटर के एचओडी डॉ प्रदीप भट्टाचार्य ने बताया कि इलाज के दौरान नीरज राम प्रजापति की मौत हो गई. जबकि सुजीत उरांव और लाल लव किशोर का इलाज चल रहा है. वहीं दीपक सर्राफ का इलाज रिम्स के ऑर्थोपेडिक विभाग में चल रहा है. घटना की सूचना मिलते ही रांची विधानसभा क्षेत्र के विधायक एवं पूर्व मंत्री सीपी सिंह और हटिया विधानसभा क्षेत्र के विधायक नवीन जयसवाल रिम्स पहुंचे और मृतक के परिजनों से मुलाकात की. हिंसक झड़प में घायल 4 लोगों का इलाज रिम्स में चल रहा था.

 उल्लेखनीय है कि लोहरदगा के ललित नारायण स्टेडियम में बीते गुरुवार को दिन के 11 बजे नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनसीआर) के समर्थन में रैली निकाई गई थी.रैली को शहर के मुख्य सड़क से होते हुए समाहरणालय मैदान पहुंचना था। रैली में शामिल लोग नारेबाजी करते हुए आगे बढ़ रहे थे. उपायुक्त और एसपी खुद इस लोगों के साथ चल रहे थे। रैली जब दिन के 11.30 बजे अमलाटोली के पास गुजरी तो विरोधी गुट के लोगों ने रैली पर ईंट-पत्थर फेंकना शुरू कर दिया, जिससे स्थिति बगड़ गई. उपद्रवियों ने कई वाहनों को आग के हवाले किया.पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और जब स्थिति काफी बिगड़ गई तो पुलिस ने लगभग 100 राउंड फायरिंग भी की थी. इसके बाद स्थिति को देखते हुए कर्फ्यू लगा दिया गया था.घटना में कई लोग घायल हो गये थे.घटना के बाद से जिले में कर्फ्यू लागू है. सोमवार को कर्फ्यू के पांचवे दिन 2 घंटे की छूट दी गई थी. आईजी नवीन कुमार सिंह ने बताया कि मामले में अब तक 100 से अधिक लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.