सोमवार को राजस्थान की नई सरकार का शपथ ग्रहण

राजस्थान में सोमवार को नई कांग्रेस सरकार का शपथ ग्रहण समारोह होगा

जयपुर. राजस्थान में सोमवार को नई कांग्रेस सरकार का शपथ ग्रहण समारोह होगा. अशोक गहलोत प्रदेश के मुख्यमंत्री और सचिन पायलट उप मुख्यमंत्री के रुप में शपथ लेंगे. गहलोत और पायलट के नेतृत्व में कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राजभवन में राज्यपाल कल्याण सिंह से बीते शुक्रवार मुलाकात कर ये जानकारी दी. प्रतिनिधिमंडल में प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे, पर्यवेक्षक केसी वेणुगोपाल, वरिष्ठ कांग्रेस नेता सीपी जोशी, भंवर जितेन्द्र सिंह, दीपेन्द्र सिंह शेखावत समेत कई आला कांग्रेस नेता शामिल थे.

राज्यपाल से मिलने के बाद राजभवन के बाहर संवाददाताओं से बातचीत में गहलोत ने बताया कि मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री सोमवार को शपथ लेंगे. सादगी और शांति के साथ ये समारोह राजभवन के बाहर होगा, क्योंकि पिछली बार कांग्रेस सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में जनता को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा था, इसलिए इस बार बड़ी जगह पर समारोह होगा ताकि जनता को तकलीफ न हो. उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और अन्य आला नेता भी शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद रहेंगे.

राजस्थान में सोमवार को नई कांग्रेस सरकार का शपथ ग्रहण समारोह होगा

अहंकार और घमंड

नव निर्वाचित उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि 17 तारीख को शपथ के बाद हमारा काम शुरू हो जाएगा. हम विश्वास दिलाते हैं कि जो आशीर्वाद जनता ने हमको दिया है, हम उन पर खरा उतरेंगे. घोषणा पत्र में किए तमाम वादे पूरा करेंगे. उन्होंने कहा कि पिछली भाजपा सरकार अहंकार और घमंड की सरकार थी, हमारी सरकार आम आदमी, किसान, नौजवान की सरकार होगी.

ये भी पढ़ें- अशोक गहलोत तीसरी बार बनेंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री

इससे पूर्व ग्यारह दिसम्बर के बाद से मुख्यमंत्री पद पर चला आ रहा बड़ा सस्पेंस शुक्रवार को खत्म हो गया. दिल्ली में मुख्यमंत्री के नाम के ऐलान के बाद अशोक गहलोत और सचिन पायलट, प्रदेश प्रभारी और पर्यवेक्षक के साथ एक ही विमान से जयपुर पहुंचे. हवाई अड्डे से गहलोत समेत चारों नेता होटल क्लार्क्स, आमेर पहुंचे जहां नवनिर्वाचित कांग्रेस विधायक दल की बैठक आयोजित की गई थी. प्रदेश प्रभारी पांडे और पर्यवेक्षक वेणुगोपाल ने विधायकों को आलाकमान के फैसले की जानकारी दी.

बैठक में अशोक गहलोत ने कहा कि हमें चार महीनों में इससे बेहतर परिणाम देना होगा. चुनौती बड़ी है, लेकिन मैं और पायलट दोनों उदाहरण बनेंगे. लोकसभा चुनाव की बड़ी चुनौतियां है और कांग्रेस की देश को जरूरत है. पायलट ने कहा कि अशोक गहलोत जी और मैं मिलकर चलेंगे. हम बताएंगे किस तरह मिलकर काम होता है. उन्होंने जिम्मेदारी देने के लिए राहुल गांधी का शुक्रिया किया. उन्होंने कहा कि सरकार प्रदेश के विकास के लिए काम करेगी. संघर्ष करने वाले नेताओं का हम ख्याल रखेंगे और 2019 चुनाव में 25 की 25 सीट जीतकर दिखाएंगे.

राजस्थान में सोमवार को नई कांग्रेस सरकार का शपथ ग्रहण समारोह होगा

पीसीसी में बढ़ाई सुरक्षा

दिल्ली से दोनों नेताओं के आने की जानकारी के बाद एयरपोर्ट, गहलोत आवास और प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पर पुलिस बल बढ़ा दिया गया. एयरपोर्ट को छावनी में तब्दील कर दिया गया. मुख्यमंत्री नियुक्त होने के बाद गहलोत को जेड प्लस सुरक्षा भी प्रदान कर दी गई. एयरपोर्ट पहुंचने पर गहलोत और पायलट का कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया गया. कार्यकर्ताओं का एयरपोर्ट पर हुजूम उमड पड़ा. गहलोत को बधाई देने का तांता लग गया. गहलोत ने हाथ हिला कर कार्यकर्ताओं का अभिवादन स्वीकार किया.