नागरिकता संशोधन अधिनियम पर विपक्ष की बयानबाजी उसकी घटिया मानसिकता : शांता कुमार

मोदी ने 67 वर्षों में पहली बार कश्मीर पूरी तरह भारत का हिस्सा बना : शांता कुमार- Panchayat Times

धर्मशाला. वरिष्ठ नेता एवं पूर्व भाजपा सांसद शांता कुमार ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) पर की जा रही बयानबाजी को लेकर विपक्ष को आड़े हाथों लिया. शांता ने कहा कि विपक्ष की यह बयानबाजी उसकी घटिया मानसिकता को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने केवल पड़ोसी देशों से आए हिंदुओं को नागरिकता दी है, इसके अलावा कुछ नही किया.

शांता ने कहा कि विपक्ष ने इस मुद्दे को नेकर देश में लोगों को भड़काने का काम किया जिससे देश में कुछ समय के लिए माहौल भी बिगड़ा लेकिन अब लोगों की समक्ष में आ गया है कि सच क्या है.

उन्होंने कांग्रेस पर आरोप जड़ते हुए कहा कि उसने वोट बैंक की खातिर देश में घुसपैठ रोकने में कोई दिलचस्पी नही दिखाई. असम जैसे राज्यों में स्थाई वाशिंदों की अपेक्षा घुसपैठियों की संख्या अधिक हो गई है. उन्होंने कहा कि घूसपैठ करने वाले मुसलमानों को सताए हुए पीड़ित हिंदुओं के बराबर नही समझा जा सकता. भारत को लावारिस नही बनाया जा सकता जिसमें कोई भी आए और मालिक बनकर बैठ जाए. घर में घुसे चोर और मेहमान को एक नही समझा जा सकता.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और बांगलादेश जैसे देश में जहां हिंदुओं की संख्या दिन प्रतिदिन कम हो रही है. पाकिस्तान में 23 प्रतिशत हिंदुओं की संख्या कम होकर तीन प्रतिशत रह गई है जबकि बांगलादेश में 22 प्रतिशत हिंदुओं में से दो प्रतिशत रह गई है. उसके खिलाफ कांग्रेस कुछ नही बोलती. केंद्र सरकार ने वहां के प्रताड़ित हिंदुओं को नागरिकता देने का कदम उठाया तो उन्हें तकलीफ होती है.

उन्होंने कहा कि विश्व में कहीं भी रहने वाला हिंदु भारत मामता का पुत्र है तथा उसके लिए भारत के दरवाजे हमेशा खुले हैं.