पाकिस्तानी ड्रोन ने की भारतीय सीमा में की घुसपैठ

पाकिस्तानी ड्रोन ने की भारतीय सीमा में की घुसपैठ-Panchayat Times
साभार इंटरनेट

जोधपुर. एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान भारत की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए लगातार ड्रोन भारतीय सीमा भेज रहा है. शनिवार को एक बार फिर भारतीय सीमा में पाकिस्तानी ड्रोन ने घुसपैठ की है. इस पर सेना की फायरिंग के बाद उसे वापस भगा दिया गया. इससे पहले शुक्रवार शाम को भी पाक ने नापाक हरकत करते हुए यूएवी भेजे थे. जिसे वहीं मार गिराया गया.

रक्षा सूत्रों के अनुसार शनिवार सुबह 6 बजे के आसपास श्रीगंगानगर के हिन्दुमलकोट क्षेत्र में ड्रोन दिखने पर सेना ने एन्टी एयरक्राफ्ट गन से फायरिंग की. इसके बाद भारतीय सीमा में ड्रोन नहीं दिखे. बता दे कि पाकिस्तानी सेना अपनी आदत से बाज नहीं आ रही है. शुक्रवार को भी भारतीय सैन्य गतिविधियों की टोह लेने के लिए दो पाकिस्तानी ड्रोन रात करीब साढ़े सात बजे सीमा सुरक्षा बल की मदेरां और रेणुका सीमा चौकी क्षेत्र के पास देखे गए. राडार पर ड्रोन की गतिविधि पकड़ में आते ही सेना ने एंटी एयरक्राफ्ट गन से फायरिंग शुरू कर दी. रक्षा सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तानी ड्रोन को गिराने के लिए करीब पंद्रह मिनट तक फायरिंग चली. जिसके बाद ड्रोन वापस चले गए. सेना ड्रोन के मलबे की तलाश के लिए सीमावर्ती क्षेत्रों में सर्च ऑपरेशन नहीं चलाया.

3 हफ्तों में 8 यूएवी गिराए

23 फरवरी: हिंदुमलकोट क्षेत्र में तारबंदी से पार पानी लगाने गए किसानों पर जीरो लाइन के पास पाकिस्तानी लोगों ने फायरिंग की.

24 फरवरी: अनूपगढ़ क्षेत्र में पाकिस्तानी क्षेत्र में दो बड़े धमाके हुए. रात को हुए इन धमाकों से भारतीय क्षेत्र में भी मकानों के दरवाजों और खिड़कियों में कंपन हुई.

4 मार्च: पाकिस्तान ने घड़साना क्षेत्र में यूएवी भेजा, जिसे एयर फोर्स के सुखोई ने गिरा दिया. इसका मलबा पाकिस्तान में फोर्ट अब्बास में गिरा.

9 मार्च: पाकिस्तान ने रोहिड़ावाली, मदेरां और फतूही क्षेत्र में दो यूएवी भेजे. सेना ने रात और दिन में फायरिंग कर दोनों यूएवी को गिरा दिया.

10 मार्च: पाक ने फिर सीमा क्षेत्र में अलसुबह दो यूएवी भेजे जिन्हें सेना ने फतूही के पास गिरा दिया. रात को फिर एक यूएवी भेजा, जिसे भी गिरा दिया.

12 मार्च: पाकिस्तान का यूएवी क्यू हैड व खाटलबाना के बीच गिरा दिया गया.

15 मार्च: खाटलबाना, फतूही व सीमावर्ती क्षेत्र के आसपास गांवों में पाकिस्तानी यूएवी भेजा गया था. जिसे गिरा दिया गया.