पहली बार कुल्लू की पापसुरा चोटी पर भारतीय सेना ने लहराया तिरंगा

पापसुरा चोटी को पहली बार भारतीय सेना की डोगरा स्काउट - Panchayat Times

कुल्लू. 6,440 मीटर ऊंची पापसुरा चोटी को पहली बार भारतीय सेना की डोगरा स्काउट की माउंटरेनिंग टीम ने फतह किया है. कुल्लू जिला की इस चोटी को जीतने का हालांकि इससे पहले कई दलों ने प्रयास किया लेकिन सफल नहींहो पाए लेकिन डोगरा स्काउट की लाहौल-स्पीति के सुमदो स्थित तैनात जवानों ने इस चोटी को दस दिनों के भीतर फतह कर दिया है.

पापसुरा चोटी को पहली बार भारतीय सेना की डोगरा स्काउट - Panchayat Times

खतरनाक पगडंडियों और बर्फ से ढ़की इस पीक को फतह करने के लिए इस दल को काफी चुनौतियों के दौर से गुजरना पड़ा लेकिन दल को आखिर में इस चोरी को फतह करने में कामयाबी हासिल हुई है. 24 सदस्यों वाले इस दल में पांच ऐवरेस्टर शामिल थे और अनुभवी टीम के सदस्यों ने इस चोटी को सफलतापूर्वक फतह किया है. दल का नेतृत्व मेजर पंकज गौड़ ने किया जिसमें 5 जेसीओएस और 18 अन्य जवान शामिल थे, जिन्होंने इस चोटी को फतह करने में सफलता हासिल की है.

ये भी पढ़ें- सोलन के संदीप ने एवरेस्ट पर विजय की हासिल

पापसुरा चोटी को पहली बार भारतीय सेना की डोगरा स्काउट - Panchayat Times

 

इस दल को ब्रिगेडियर एलएस लीडर, सेना मेडल कमांडर 136 इंडिपैंडेंट इनफैंटरी ब्रिगेड समूह सूमदो ने झंडी दिखाकर रवाना किया था. जिसके चलते टीम किन्नौर के पूह होते हुए छोटा दड़ा, बड़ा दड़ा, मनाली होते हुए शुरू किया था और उसके बाद इस पीक की ओर बढ़े थे.