कोरोना संकट के बीच संसद के मानसून सत्र की शुरुआत, प्रश्नकाल न होने को लेकर हंगामा, लोकसभा कल दोपहर 3 बजे तक स्थगित

कोरोना संकट के बीच संसद के मानसून सत्र की शुरुआत, प्रश्नकाल न होने को लेकर हंगामा, लोकसभा कल दोपहर 3 बजे तक स्थगित - Panchayat Times
Source:- Loksabha TV

नई दिल्ली. कोरोना वायरस संकट के बीच संसद में आज से 18 दिनों के मानसून सत्र की शुरुआत हो गई है. कोविड-19 के प्रकोप को देखते हुए सदन में सत्र के दौरान कई चीजें पहली बार हो रही हैं. जैसे कि  दोनों सदनों की बैठक सुबह-शाम की पालियों में होंगी.

सत्र के दौरान एक भी अवकाश शामिल नहीं है. संसद परिसर में चुनिंदा लोगों को प्रवेश की अनुमति है. इसके अलावा सदन के परिसर में दाखिल होने से पहले कोविड-19 संक्रमण नहीं होने की पुष्टि वाली रिपोर्ट का होना अनिवार्य है, इसके अलावा मास्क पहनना सभी के लिए जरूरी है.

प्रश्न पूछने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सांसदों को आश्वस्त किया

प्रश्न पूछने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सांसदों को आश्वस्त किया है. उन्होंने कहा कि सदस्यों की बात को सुना जाएगा. संकट की घड़ी में परिस्थितियों को समझते हुए सदस्य सहयोग करें.

23 विधेयक होंगे पेश

सरकार की नजर 23 विधेयकों पर चर्चा और इसे पारित कराने पर है. इसमें 11 ऐसे विधेयक भी हैं जो अध्यादेशों का स्थान लेंगे. इनमें से चार विधेयकों का विपक्षी दल विरोध कर सकते हैं. ये चारों विधेयक कृषि क्षेत्र और बैंकिंग नियमन से जुड़े अध्यादेश का स्थान लेंगे.

बताते चलें कि सत्र के प्रारंभ से पहले सांसदों और संसद कर्मचारियों समेत 4,000 से अधिक लोगों की कोरोना जांच कराई गई है.