कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री ने की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक बोले 16 जनवरी से शुरु होगा टीकाकरण अभियान, वैक्सीन को लेकर अफवाहों पर लगाम लगाएं राज्य

कोरोना को लेकर प्रधानमंत्री ने की मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक बोले 16 जनवरी से शुरु होगा टीकाकरण अभियान, वैक्सीन को लेकर अफवाहों पर लगाम लगाएं राज्य - Panchayat Times
PM Modi interacting with CMs

नई दिल्ली. देश में 16 जनवरी से शुरू हो रहे दुनिया के सबसे बड़े कोरोना के टीकाकरण अभियान से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को सभी राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों से तैयारियों को लेकर बैठक की. बैठक में पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों को बताया कि सबसे पहले वैक्सीन कोरोना वॉरियर्स को दी जाएगी.

पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने जिन दो वैक्सीन को मंजूरी दी है वह दोनों ही भारत में निर्मित हैं. इसके साथ ही भारत की जैसी परिस्थिति है उसके आधार पर ये बहुत राहत की बात है कि इन वैक्सीन को पहले मंजूरी दी गई है.

और चार वैक्सीन भी अभी पाइपलाइन में

पीएम मोदी ने कहा कि जिन दो वैक्सीन को मंजूरी दी गई है उनके अलावा चार वैक्सीन भी अभी पाइपलाइन में हैं. यह हमें भविष्य की बेहतर तैयारी करने में मदद करेगी. पीएम मोदी ने कहा कि हमारे एक्सपर्ट्स देशवासियों को सही वैक्सीन देने के लिए सभी तरह की सावधानियां बरत रहे हैं.

कोरोना वॉरियर्स को पहले टीका – पीएम मोदी

मुख्यमंत्रियों संग बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि सबसे पहले फ्रंट लाइन वर्कर्स को कोरोना का वैक्सीन लगेगा. इसके बाद सफाई कर्मियों को टीका लगेगा. इसके बाद पुलिसकर्मियों, सुरक्षाकर्मियों, सुरक्षा बल के जवानों को कोरोना का वैक्सीनेशन होगा. दूसरे चरण में 50 वर्ष से ऊपर के लोगों और जो लोग संक्रमण के लिए ज्यादा संवेदनशील हैं, उन्हें टीका लगेगा.

देश के अलग-अलग हिस्सों में आज से पहुंचेगी कोविशील्ड

16 जनवरी से कोरोना वैक्सिनेशन की शुरुआत होने वाली है. ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन कोविशील्ड को पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के लैब से देश के अलग-अलग हिस्सों में भेजने की तैयारी कर ली गई है. आज शाम या कल सुबह वैक्सीन को पुलिस सिक्योरिटी में देश के अलग-अलग हिस्सों में भेजा जाएगा.

अफवाहों पर लगाम लगाएं राज्य

प्रधानमंत्री ने कोरोना वैक्सीन को लेकर अफवाहों से बचने की सलाह दी. पीएम ने कहा कि इस तरह की अफवाहों पर लगाम लगाने की जिम्मेदारी राज्यों की है. कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर वैज्ञानिक समुदाय की सलाह के आधार पर हम काम करते रहेंगे, हम उसी दिशा में चले हैं.