पुलिस की सतर्कता से बची युवक की जान

पुलिस की सतर्कता से बची युवक की जान-Panchayat Times
गिरफ्तार अपराधियों के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करते एसपी प्रभात कुमार

रामगढ़. रामगढ़ पुलिस की सतर्कता ने पांडे गिरोह के द्वारा एक व्यक्ति की हत्या की योजना को विफल कर दिया. पुलिस योजना में शामिल सभी अपराधियों को  गिरफ्तार कर लिया है. ये सभी पांडे गिरोह के गुरगे हैं.  शनिवार को यहांं रामगढ एसपी प्रभात कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में मिडिया को इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए बताया कि  2 गिरोह के आपसी रंजिश का शिकार भुरकुंडा के एक व्यक्ति को बनाया जाने की योजना थी.

पांडे गिरोह के कुछ लोग हाल ही में लगातार गिरफ्तार हुए हैं. उन्हें संदेह था कि भुरकुंडा के रहने वाले एक युवक जिसकी मिलीभगत श्रीवास्तव गिरोह के साथ है. उसी ने उन लोगों को जेल भिजवाने के लिए मुखबिरी की है. इसके बाद उस व्यक्ति की हत्या की साजिश रची गई थी. इस योजना की खबर पुलिस को लग गई थी जिसके बाद पुलिस टीम ने शुक्रवार की शाम पतरातू घाटी में बेती मोड़ के पास योजना को अंजाम देने जा रहे सभी अपराधियों को स्विफ्ट कार में जाते हुए पकड़ा लिया.

पुलिस की सतर्कता से बची युवक की जान-Panchayat Times
अपराधियों के पास से बरामद हथियार, गोली और मोबाइल

गिरफ्तार अपराधियों में भुरकुंडा केके हाई स्कूल सयाल निवासी राहुल कुमार सिंह, सयाल निवासी विक्की राम उर्फ विक्की डोम और रेलवे साइडिंग टिपला, भुरकुंडा निवासी शाहिद अंसारी शामिल हैं. पुलिस ने इनके पास से एक देसी रिवाल्वर, 10 जिंदा गोली, मारुति स्विफ्ट WB02Y- 4923 और तीन मोबाइल बरामद किया है.
 

पुलिस की सतर्कता से बची युवक की जान-Panchayat Times
पुलिस द्वारा बरामद की गई कार

एसपी कुमार ने बताया कि पुलिस 5 मिनट देर से पहुंचती तो भुरकुंडा निवासी उस युवक की हत्या हो जाती. उन्होंने बताया कि सबसे पहले राहुल और विक्की ने पैसे का प्रलोभन देकर युवक को रांची बुलाया था. शुक्रवार को जब वह  रांची पहुंचा तो उसे जबरन स्विफ्ट कार की डिक्की में डाल दिया गया. इसके बाद राहुल, विक्की और शाहिद बंगाल नंबर कार लेकर वापस पतरातू की तरफ ही आने लगे. इसी दौरान वे लोग रात में पतरातू घाटी में एक सुनसान जगह ढूंढ रहे थे, जहां वह उसे गोली मार कर फेंक सकें. इस दौरान पुलिस को सिर्फ इतनी सूचना मिली थी कि एक मारुति स्विफ्ट कार में एक युवक का अपहरण किया गया है.उस कार का नंबर बेस्ट बंगाल का है. इसके बाद पतरातू एसडीपीओ प्रकाश चंद्र महतो के नेतृत्व में बहुत ही सफाई से टीम बनाकर इन अपराधियों को धर दबोचा गया.


एसपी ने बताया कि गिरफ्तार सभी अपराधियों का अपराधिक इतिहास भी रहा है. इस टीम को लीड कर रहे विक्की राम उर्फ विक्की डोम 3 साल पहले जेल भी जा चुका है. आजकल वह पांडे गिरोह के लिए ही काम कर रहा है.